Top

7 महीने से बच्चे को नहीं हुई शौच क्रिया, इलाज के लिए PM मोदी से गुहार

By

Published on 31 July 2016 12:50 PM GMT

7 महीने से बच्चे को नहीं हुई शौच क्रिया, इलाज के लिए PM मोदी से गुहार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: बर्रा थाना क्षेत्र के जरौली के टिकरा में रहने वाले प्रमोद के 6वीं क्लास में पढ़ने वाले बेटे रितेश को सात महीने से शौच क्रिया नहीं हुई हैं। यह बात सुनकर आप जरुर हैरान हो रहे होंगे। जी हां, सिर्फ आप ही नहीं, रितेश के साथ साथ उसका पूरा परिवार भी इसको लेकर बहुत हैरान और परेशान है। प्रमोद का परिवार बड़ा होने के कारण वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा है और रितेश का इलाज करवाने में असमर्थ है।

अपने बेटे रितेश की इस अजीबो गरीब बीमारी का उचित इलाज करवाने के लिए पिता प्रमोद पीएम नरेंद्र मोदी से निवेदन कर रहे हैं। प्रमोद का कहना है कि वह चाय की दुकान लगाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करते हैं। पीएम मोदी ने भी बचपन में चाय बेची है इसलिए वह हमारे दर्द को अच्छी तरह समझ सकते हैं।

कौन कौन है फैमिली में ?

-प्रमोद यादव चाय की शॉप चलाकर अपनी फैमिली का भरण पोषण करते हैं।

-उनकी आर्थिक स्थिति भी बहुत कमजोर है।

-प्रमोद यादव के परिवार में पत्नी रेखा है जो मानसिक रुप से विक्षिप्त है।

-प्रमोद यादव का बड़ा बेटा रवि अपनी शादी के बाद पत्नी और बच्चों संग अलग जगह रह रहा है।

-प्रमोद की बेटी ज्योति 12वीं क्लास और छोटी बेटी प्रियांशी 8वीं क्लास की स्टूडेंट है।

-प्रमोद का बेटा रितेश 6वीं क्लास का स्टूडेंट है और सबसे छोटा बेटा हेमंत चौथी क्लास में पढ़ता है।

पिछले साल अक्टूबर में रितेश को आया था फीवर

-प्रमोद यादव के मुताबिक पिछले साल अक्टूबर में रितेश को फीवर आया था।

-जिसके बाद प्रमोद ने बेटे रितेश को कानपुर के ही प्राइवेट हॉस्पिटल में दिखाया था।

-रितेश का फीवर तो ठीक हो गया था, लेकिन उसे शौच क्रिया होनी बंद हो गई।

-इसके बाद प्रमोद ने कई डॉक्टर्स से रितेश का इलाज कराया, लेकिन आर्थिक तंगी के चलते उन्होंने रितेश का इलाज बंद कर दिया।

यह भी पढ़ें ... मौत के 10 घंटे बाद जिंदा हुई 90 साल की बुजुर्ग, सुनाई यमलोक की दास्तां

अजीबो गरीब बीमारी से सब हैं हैरान-परेशान

-प्रमोद ने बताया कि सात महीने बीत चुके हैं रितेश ने शौच क्रिया नही की है।

-रितेश हर आम इंसान की तरह रोजाना खाना खाना है और यूरिन भी जाता है, लेकिन उसे शौच क्रिया नही होती है।

-इस अजीबो गरीब बीमारी से पूरा परिवार परेशान है।

-जिसे भी यह समस्या बताते हैं तो वह भी हैरान रह जाता है।

kanpur पिता प्रमोद के साथ बेटा रितेश

पीएम मोदी से बेटे का उचित इलाज करवाने का निवेदन

-प्रमोद ने कहा कि मेरे पास इतना पैसा नही है कि मैं अपने बेटे को किसी बड़े डॉक्टर को दिखा सकूं।

-उन्होंने कहा कि मैं पीएम नरेंद्र मोदी जी से निवेदन करता हूं कि वह मेरी मदद करें और मेरे बच्चे को जल्द से जल्द अच्छा उपचार दिलाएं।

-प्रमोद ने कहा कि पीएम मोदी खुद पहले चाय बेचते थे वह हमारा दर्द अच्छी तरह समझ सकते हैं।

मुझे इससे कोई दिक्कत नहीं होती

-रितेश ने बताया कि मैंरोज खाना खाता हूं और यूरीन भी जाता हूं।

-लेकिन मुझे सात महीनों से शौच क्रिया नहीं हुई है।

-हालांकि मुझे इससे कोई प्रॉब्लम नहीं होती है।

-मैं अपने पिता के साथ चाय की शॉप में उनका हाथ भी बंटाता हूं।

kanpur रितेश का कहना है कि उसे अपनी इस बीमारी से डर लगता है

मुझे लगता है डर

-रितेश बताता है कि जब मुझे यह याद आता है कि मुझे सात महीने से शौच क्रिया नही हुई है तो यह सोच कर मैं डर जाता हूं।

-मैं यही सोचता हूं कि पता नही आने वाले दिनों में मेरा क्या होगा।

-मै अपने माता पिता की सेवा करना चाहता हूं और अपनी बहनों की शादी करना चाहता हूं।

-पता नही मेरी किस्मत में क्या है।

क्या कहना है बाल रोग विशेषज्ञ का ?

-Newztrack ने हैलट हॉस्पिटल के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. आर के त्रिपाठी से इस संबंध में बात की।

-डॉ. आर के त्रिपाठी ने कहा कि कोई बच्चा सात महीने से शौच क्रिया नही कर रहा है, यह इंपोसिबल है।

-उन्होंने कहा कि इस तरह के केस में बच्चे का मल किसी न किसी रास्ते जरुर निकल रहा होगा,चाहे वह यूरीन के रास्ते से ही क्यों न निकल रहा हो।

-डॉ. त्रिपाठी ने कहा कि बच्चे की समस्त जांच के बाद ही उसकी इस बीमारी के निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है।

Next Story