×

धर्म परिवर्तन के लिये कर रहा था प्रेरित, पुलिस ने किया गिरफ्तार

रानीपुर ग्राम में धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित करने व प्रार्थना सभा में बुलाने का एक मामला सामने आया है। रमेश गौतम नाम का व्यक्ति रुपईडीहा कस्बे में पल्लेदारी करके अपना जीवन यापन करता है। उसकी पत्नी आरती अक्सर बीमार रहा करती थी। जिसके लिए वह दवाई इलाज कराया करता था।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 Jan 2019 2:29 PM GMT

धर्म परिवर्तन के लिये कर रहा था प्रेरित, पुलिस ने किया गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बहराइच : रानीपुर ग्राम में धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित करने व प्रार्थना सभा में बुलाने का एक मामला सामने आया है। रमेश गौतम नाम का व्यक्ति रुपईडीहा कस्बे में पल्लेदारी करके अपना जीवन यापन करता है। उसकी पत्नी आरती अक्सर बीमार रहा करती थी। जिसके लिए वह दवाई इलाज कराया करता था। उसकी पत्नी का कहना था कि उसे भूत ने पकड़ रखा है। इसी सिलसिले में उसकी मुलाकात जैसपुर बाँके नेपाल के रहने वाले ईसाई धर्म प्रचारक धर्मेंद्र सिंह से हो गई।

ये भी देखें :नई रोस्टर प्रणाली के खिलाफ वकीलों ने किया हाईकोर्ट में काम ठप, कल से करेंगे काम

धर्मेंद ने उसे प्रभु यीशु की प्रार्थना करने के लिए कहते हुये बताया कि अगर प्रार्थना करते रहोगे तो भूत पिशाच सब भाग जाएगा तुम्हारी पत्नी स्वस्थ हो जाएगी। धर्मेंद्र की बात मान उसने प्रार्थना करना शुरू कर दिया। घर में रखी देवी देवताओं की प्रतिमाओं को भी हटा दिया। इस बात की जानकारी गांव वालों ने पुलिस को दी जिसके बाद रुपईडीहा पुलिस ने परिजनों व ग्रामीणों से पूछताछ की।

ये भी देखें :हाईकोर्ट ने लिविंग में रह रही लड़कियों को दी राहत, कहा- सुरक्षा पर विचार करे पुलिस

धर्मेंद्र रुपईडीहा के मिशन अस्पताल में नौकरी करता हैं। वहाँ ईसाई धर्म की पुस्तकें व पम्पलेट वितरित करता है। रमेश गौतम उसकी पत्नी , बेटी रूपा व पुत्र शिवम भावनात्मक रुप से इसाई धर्म की ओर प्रेरित हो रहे थे।

अपर पुलिस अधीक्षक रविंद्र सिंह ने बताया की धर्म प्रचारक धमेंद्र के खिलाफ लोगों को बरगला कर उन्हें धर्मपरिवर्तन के लिये प्रेरित करने का मामला दर्जकर उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story