×

CM योगी का ऐलान: गाजियाबाद में बने देश का सबसे बड़ा स्टेडियम

Shivakant Shukla
Published on 6 Nov 2018 7:49 AM GMT
CM योगी का ऐलान: गाजियाबाद में बने देश का सबसे बड़ा स्टेडियम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: आज राजधानी में अटल बिहारी स्टेडियम का उदघाटन के दौरान यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बोलते हुए कहा कि यूपी में पीपीपी मोड पर पहला क्रिकेट स्टेडियम बना है। इसका नामकरण क्या हो। इसके बारे में पिछले कुछ दिनों से चर्चाएं चल रही थी।

हम शहीद पथ के किनारे पर स्थित हैं। यह शहीद पर अटल बिहारी वाजपेयी की देन है। यदि यह नहीं बना होता तो राजधानी के यातायात की क्या ​स्थिति होती। उन्होंने इस देश के अंदर इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए आगे बढाया। उसका परिणाम है कि राजधानी का जो निर्जन क्षेत्र माना जाता था। शहीद पथ बनने के बाद चहल पहल का क्षेत्र बन गया है। इसलिए इस क्रिकेट स्टेडियम का नाम अटल बिहारी वाजपेयी जी के नाम पर रखा है।

ये भी पढ़ें— मैच शुरू होने के कुछ घण्टे पहले CM योगी ने किया अटल स्टेडियम का उद्घाटन….

सीएम ने तय कर दिया था कि सिफारिश से टिकट नहीं मिलेगा

सीएम ने कहा ​कि टूर्नामेंट देखने वालों की संख्या बहुत होती है। आज सायंकाल संपन्न होगा। पहले ही मैंने तय कर दिया था कि सिफारिश से कोई टिकट नहीं देना। शुरू में मेरे पास एक सज्जन आए। उनका वजन बहुत ज्यादा था। उनका वजह 4 कुंतल था। उन्होंने कहा कि मुझे 4 टिकट दिला दीजिए। मैंने उनसे कहा कि कम से कम 10 दिन तक 3 किमी पैदल चलकर मेरे पास आओ तो मैं तुम्हारे लिए टिकट की सिफारिश कर दूंगा। पर दो दिन बाद वह नहीं आए। स्पोर्टस देखने के लिए स्पोर्टस परसन जैसा बनो। यह मैच हमारे लिए एक इवेंट है। प्रदेश को प्रस्तुत करने का। हर खिलाड़ी जो अच्छा खेले। उसे हमें प्रोत्साहित करना चाहिए।

गाजियाबाद में बने देश का सबसे बड़ा स्टेडियम

मुख्यमंत्री ने कहा कि 23 करोड़ की आबादी प्रदेश में निवास करती है। गाजियाबाद में बनने वाला स्टेडियम के भूमि पूजन का काम शुरू हो जाए। अब तक देश के अंदर जो भी स्टेडियम बने हैं। कोलकाता का ईडेन गार्डेन 65 हजार क्षमता का है। उसे सबसे ज्यादा 75 हजार क्षमता बनाने का प्रयास करें।

ये भी पढ़ें— LIVE: कुछ देर में द. कोरिया की प्रथम महिला संग दीपोत्सव 2018 में पहुंचेंगे CM योगी

हर गांव में स्टेडियम नहीं तो खेल का मैदान हो सकता है

सीएम योगी ने कहा कि 50 हजार दर्शकों की क्षमता का स्टेडियम है। यहां पर हम लोग बहुत सारे ऐसे कार्यक्रम और स्थल बनाने जा रहे हैं जो लखनऊ और पूरे प्रदेश के लिए अद्वितीय बनेगा। खेलो भारत खेलों की तर्ज पर हर युवा को खेल के प्रति आकर्षित करने में सफल होंगे। मैंने अपने खेल मंत्री से कहा है कि प्रयास होना चाहिए कि हर गांव में स्टेडियम नहीं तो हर गांव में खेल का मैदान तो हो सकता है।

ये भी पढ़ें— क्या आप आईएनएस अरिहंत की खूबियों के बारें में जानते है, इन दस बिन्दुओं से जानें इसकी खासियतें

प्रयास होना चाहिए कि हर विकास खंड स्तर पर एक मिनी स्टेडियम दे सके

उन्होंने कहा कि पीएम खेल के लिए कितने उत्सुक रहते हैं। पीएम अभी वाराणसी आए थे। एक जगह गए थे। छोटे बच्चों का कार्यक्रम था। पीएम ने कहा कि बच्चे इतना खेले कि उन्हें दिन में चार बार पसीना आए। आज के समय में अभिभावक ने बच्चों को किताबी कीड़ा बनाकर रख दिया है। पहले युवा टीबी देखता था अब मोबाइल में जकड़ा हुआ है। या तो किताबों में। प्रयास होना चाहिए कि हर विकासखंड स्तर पर एक मिनी स्टेडियम दे सकें। ताकि वहां खेलकूद की गतिवि​धियों को बढावा दिया जा सके।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story