×

सभी सरकारी अस्पताल अलर्ट पर, डॉक्टरों की 24 घंटे की सांकेतिक हड़ताल

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के आह्वान पर आज हड़ताल के मद्देनजर सभी छोटे-बड़े सरकारी अस्पतालों को मुख्य चिकित्सा अधिकारी की ओर से पत्र लिखकर अलर्ट किया गया है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 31 July 2019 6:29 AM GMT

सभी सरकारी अस्पताल अलर्ट पर, डॉक्टरों की 24 घंटे की सांकेतिक हड़ताल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के आह्वान पर आज हड़ताल के मद्देनजर सभी छोटे-बड़े सरकारी अस्पतालों को मुख्य चिकित्सा अधिकारी की ओर से पत्र लिखकर अलर्ट किया गया है।

ये भी देखें:TripleTalaq : फेल साबित हुआ तीन तलाक इनके लिए, उठाया खौफनाक कदम

सीएमओ डॉ नरेन्द्र अग्रवाल द्वारा भेजे गये पत्र में कहा गया है कि आईएमए ने 31 जुलाई को सुबह छह बजे से अगले दिन सुबह छह बजे तक 24 घंटे की सांकेतिक हड़ताल का निर्णय लिया है। पत्र में निजी चिकित्सालयों के बंद होने के कारण उत्पन्न परिस्थिति को देखते हुए अपने-अपने चिकित्सालयों को सजग एवं सतर्क रखते हुए मांगे जाने पर या आवश्यकता पड़ने पर तत्काल चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराने की बात कही गयी है।

सीएमओ के पत्र में यह भी कहा गया है कि किसी भी मरीज को लौटाया न जाए, इस बात का ध्यान रखने के लिए संबंधित व्यक्ति को निर्देश जारी कर दें।

ये भी देखें:जयंती विशेष : मुंशी प्रेमचंद ‘डार्क पीरियड़’ में पैदा हुआ भारत का गोर्की

ये है उन अस्पतालों के लिस्ट

सीएमओ द्वारा यह पत्र बलरामपुर चिकित्सालय, लोकबंधु राजनारायण चिकित्सालय, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी चिकित्सालय, डॉ राम मनोहर लोहिया चिकित्सालय, डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय, गांधी मेमोरियल चिकित्सालय लखनऊ, बीआरडी चिकित्सालय,महानगर, रानी लक्ष्मीबाई चिकित्सालय राजाजीपुरम, राम सागर मिश्रा चिकित्सालय साड़ा मऊ, बीकेटी, संयुक्त चिकित्सालय ठाकुरगंज, वीरांगना अवंती बाई महिला चिकित्सालय,वीरांगना झलकारी बाई महिला चिकित्सालय के साथ ही सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, नगरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों तथा सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के मुखिया को भेजा गया है।

ये भी देखें:बॉलीवुड ने प्रेमचंद की कहानियों और उपन्यास को जमकर बेचा, लेकिन नहीं हुआ न्याय

गौरतलब है कि संसद में इसी सत्र में पारित नेशनल मेडिकल कमीशन बिल के विरोध में बुधवार को चिकित्सक 24 घंटे की सांकेतिक हड़ताल पर जाने का एलान किया है। इंडियन मेडिकल एशोसिएशन इस संाकेतिक हड़ताल के बाद आगे की कार्यवाही के संबंध में फैसला करेगी। हालांकि हड़ताल के दौरान इमरजेंसी सेवायें चालू रहेंगी।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story