Top

अब गोरखपुर स्टेशन भी हुआ वाई-फाई से लैस, 30 मिनट तक मिलेगा फ्री

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 20 Jun 2016 4:34 PM GMT

अब गोरखपुर स्टेशन भी हुआ वाई-फाई से लैस, 30 मिनट तक मिलेगा फ्री
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: विश्व प्रसिद्ध गोरखपुर जंक्शन सोमवार को वाई-फाई सुविधा से लैस हो गया। यहां आने और जाने वाले यात्रियों को अब अपने मोबाइल और लैपटॉप में वाई-फाई की सुविधा मिलेगी। रेलवे अधिकारियों और यात्रियों को भी काफी दिनों से इस बहुप्रतीक्षित योजना का इंतजार था।

गोरखपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन पर रेल-टेल और गूगल की तेज वाई-फाई सेवा का शुभारंभ गोरखपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन पर रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने किया। खास बात यह है कि आज ही दुनियाभर में फर्स्ट वाई-फाई डे भी मनाया गया है। इसका मुख्य उद्देश्य ब्रॉडबैंड सेवा को सभी वंचित क्षेत्रों तक पहुंचाना है।

उत्तर प्रदेश का गोरखपुर पूर्वांचल के गौरव का प्रतीक है। नेपाल सीमा से निकटता के कारण यह एक मशहूर शहर भी है। गोरखपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन पर विश्व का सबसे लंबा प्लेटफार्म 1.36 कीमी है। स्टेशन का उपयोग प्रतिदिन लगभग 40 हजार यात्री करते हैं।

गोरखपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन पर 66 ऐक्सेस प्वाइंट और 35 एक्सेस स्विचेज लगाए गए हैं। इसके माध्यम से स्टेशन के सभी प्लेटफार्म और सार्वजनिक स्थलों पर यह सुविधा उपलब्ध होगी। इस परियोजना के अंतर्गत चालू वर्ष में कुल 100 रेलवे स्टेशन पर वाई-फाई सेवा प्रदान करने का प्रयास है। इस सुविधा का लाभ करीब एक करोड़ भारतीयों को मिलेगा। बाकी के 300 स्टेशन 2017 में करने की योजना है। इन 100 स्टेशन में उत्तर प्रदेश राज्य के 14 रेलवे स्टेशन भी शामिल हैं।

रायबरेली-अमेठी तक सीमित नहीं रहेंगी केंद्र सरकार की योजनाएं

रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से सांसद हैं। इसलिए पूर्वी उत्तर प्रदेश विकास की मुख्य बिंदु में आ गया है। इससे पहले केंद्र की योजनाएं उत्तर प्रदेश में रायबरेली और अमेठी से बाहर नहीं निकल पाती थीं। अब पूर्वी उत्तर प्रदेश विकास के एजेंडे में आ गया है।

Newstrack

Newstrack

Next Story