Top

प्रेमिका को घर बुलाकर मारी गोली, खून के धब्बे मिटाती रही मां

By

Published on 25 Jun 2016 3:24 PM GMT

प्रेमिका को घर बुलाकर मारी गोली, खून के धब्बे मिटाती रही मां
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: राजधानी के जानकीपुरम थाना क्षेत्र में एक आशिक ने अपने प्रेमिका को घर बुलाकर गोली दी। इस घटना में प्रेमिका की मौत हो गई। वारदात के बाद से आरोपी प्रेमी फरार है।

क्या है मामला ?

-जानकी पुरम के सेक्टर-3 में शकील रहते हैं।

-उनकी तीन बेटियां हैं पूजा (20 वर्ष), तमन्ना (7 वर्ष) और तरन्नुम (3 वर्ष) हैं।

-उनके पड़ोस में ही शाहजहांपुर निवासी उर्मिला चौरसिया बेटे सुमित चौरसिया के साथ रहती हैं।

-शनिवर दोपहर पूजा उर्मिला के घर गई थी।

-उसी दौरान सुमित ने उसे गोली मार दी।

बहन ढूंढते हुए पहुंची थी प्रेमी के घर

-काफी देर तक जब पूजा अपने घर नहीं पहुंची तो उसकी बहन तमन्ना उसे ढूंढते हुए उर्मिला के घर पहुंची।

-बहन के बारे में पूछा तो उर्मिला ने मना कर दिया।

-जब तरन्नुम ने आशंकावश घर में झांका तो पूजा को फर्श पर पड़ा देखा।

-उसके सिर से खून बह रहा था।

-तरन्नुम के शोर मचाने के बाद आस-पास के लोग वहां पहुंचे।

-इस बीच उर्मिला फर्श से खून के धब्बे मिटाने लगी।

प्रेमिका की शादी की बात से था परेशान

हद तो तब हो गई जब आरोपी प्रेमी की मां ने गोली लगने से घायल युवती को अस्पताल ले जाने के बजाय घर में बिखरे खून के धब्बे मिटाती रही। मोहल्ले वालों का कहना है कि दोनों के घर अगल-बगल हैं। बताया जाता है कि युवती के परिजन उसकी शादी कहीं और कर रहे थे। इससे बाद से प्रेमी परेशान था। वह प्रेमिका पर शादी का दबाव बना रहा था।

एसओ जानकीपुरम गोपाल यादव ने बताया कि पड़ोसियों ने मामले की जानकरी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती को ट्रॉमा सेंटर भेजा। जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Next Story