बलरामपुर पहुंचे सीएम योगी, बोले- अटल बिहारी के नाम पर बनेगा मेडिकल सेटेलाइट सेंटर

बलरामपुर: उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले के दो दिवसीय दौरे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को पहुंचे। रिजर्व पुलिस लाइन बलरामपुर में योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों के साथ नीति आयोग द्वारा जिले के विकास पर चल रही कार्ययोजना की समीक्षा बैठक की। बैठक के तुरंत बाद योगी आदित्यनाथ ने जिला मेमोरियल चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया और वहां भर्ती मरीजों से मुलाकात की। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने नीति आयोग द्वारा जारी पिछड़े 115 जिलो में शामिल बलरामपुर जिले में स्वास्थ्य शिक्षा और संसाधन पर जोर देने की बात कही साथ ही थारू जनजाति के उत्थान के लिए हो रहे कार्यो की सराहना की। पत्रकारों द्वारा संयुक्त चिकित्सालय बलरामपुर में हुए 1 करोड़ 40 लाख रुपय के घोटाले के सवाल पर सीएम ने कोई जवाब नही दिया और बिना जवाब दिए वहां से निकल गए।

चिकित्‍सालय का किया दौरा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय बलरामपुर जिले के दौरे पर पहुंचे मुख्यमंत्री का उड़न खटोला रिजर्व पुलिस लाइन बलरामपुर में उतरा। सीएम योगी ने पुलिस लाइन में ही अधिकारियों के साथ बैठक कर नीति आयोग की कार्ययोजना पर चर्चा की। बैठक के दौरान सीएम योगी ने विकास कार्यो की योजना पर अधिकारियों के साथ चर्चा की। बैठक समाप्त होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की। योगी आदित्यनाथ बैठक के बाद योगी जिला मेमोरियल चिकित्सालय का औचक निरीक्षण के लिए निकल गए। जिसके बाद अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए।

मुख्यमंत्री ने जिला चिकित्सालय पहुंचकर वहां भर्ती मरीजों का हाल चाल जाना। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि नीति आयोग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा बैठक करने के लिए आये हैं।

नीति आयोग द्वारा जारी आंकड़ो में 115 मानवीय विकास में पीछे जिलो की लिस्ट में बलरामपुर भी है। यहां स्वास्थ्य शिक्षा और संसाधनों पर कार्य किया जाना आवश्यक है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा बलरामपुर की धरती पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेई की कर्मस्थली है। यहां बहुत कुछ सीखने वाला जिला है। पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर यहां सेटेलाइट मेडिकल सेंटर की स्थापना की कार्ययोजना भी प्रस्तावित है। जिसे बाद में केजीएमयू को हैंडओवर करके बेहतर यहां स्वास्थ्य सुविधा देने की प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी। योगी ने कहा यहां थारू जनजाति के उत्थान के लिए बेहतर काम हो रहा है, शाशन की योजनाओं का लाभ दिलाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से संयुक्त जिला चिकित्सालय में व्याप्त भ्रष्‍टाचार और 4 दिन के भीतर 1 करोड़ 40 लाख रुपये के घोटाले के सवाल पर योगी ने कोई जवाब नही दिया और वहां से निकल गए। दरअसल पूर्व सीएमएस व बाबुओ की मिलीभगत से सीएमएस ने तबादला होते ही 4 दिनों में 1 करोड़ 40 लाख के सरकारी धन को कागजो में खर्च कर दिया है।