सीएम योगी ने गोरखपुर को दिया 55.30 करोड़ रुपये की योजनाओं की सौगात

दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सूर्य कुंड धाम मंदिर में 55.30 करोड़ रुपये के विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया।

गोरखपुर: दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सूर्य कुंड धाम मंदिर में 55.30 करोड़ रुपये के विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया।

वहीं 2.60 करोड़ रुपये से पर्यटन विकास की परियोजना के अंतर्गत पौराणिक रूप से महत्वपूर्ण सूर्य कुंड धाम के सुंदरीकरण के कार्य का भी शिलान्यास किया।

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता को संबोधित करते हुए कहा की मुझे आज बहुत प्रसन्नता है, कि दशकों से जो सूरज कुंड धाम अपने पुनर उद्धार का इंतजार कर रहा था।

वह आज कार्य आप सभी के बीच में प्रारंभ करते हुए प्रसन्नता की अनुभूति हो रही है।

ये भी पढ़ें…राजनाथ सिंह ने कश्मीर पर पाक को दी खुली चुनौती, कही ये बड़ी बात

पिपराइच कप्तानगंज मार्ग को चौड़ीकरण का कार्य संपन्न हुआ

यह सूरज कुंड धाम को एक दर्शनीय स्थल पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए इस विश्वास के साथ आज शिलान्यास का कार्यक्रम आज यहां पर संपन्न हो रहा है।

साथ ही साथ यहां पर तमाम लोकार्पण के कार्यक्रम भी संपन्न हो रहे हैं। जिसमें बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलेक्ट्रिक सेफ्टी के कार्य भी हैं। वीर बहादुर सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज में एक आरसीसी सड़क का लोकार्पण कार्यक्रम है।

गोरखपुर पिपराइच कप्तानगंज मार्ग को चौड़ीकरण का कार्य संपन्न हुआ है। जंगल और औराही तथा डोमिनगढ़ में एक मार्ग के आज लोकार्पण का कार्य भी आज संपन्न हो रहा है।

गोरखपुर विकास के नये युग में प्रवेश कर रहा है

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आज 6 लोकार्पण और शिलान्यास का यह कार्यक्रम गोरखपुर के विकास और गोरखपुर विकास के एक नए युग में प्रवेश कर रहा है। इस बात को प्रदर्शित करता है।

वास्तव में विकास की तमन्ना हर एक की होती है। लेकिन विकास के लिए एक रचनात्मक सोच भी चाहिए और उस रचनात्मक सोच के साथ जब विकास की योजनाओं के साथ आमजन का सहयोग प्राप्त होता है। तो एक माहौल बनता है।
विकास का कार्य स्वीकृत कर देने के ही मात्र से विकास नहीं हो जाता ।उस विकास के कार्यों के साथ एक एक कड़ी को जोड़ना पड़ेगा। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सरकार ने विकास के लिए पूरे पैसे दिए हैं।

उसका पैसे का सही सदुपयोग हो और उस पैसे के माध्यम से हम लोग विकास के एक नए मानक वापस स्थापित कर सकें।

सूरज कुंड धाम के जीर्णोद्धार के लिए दिए ढाई करोड़

हम लोगों ने यहां पर ढाई करोड़ से अधिक रुपया केवल सूरज कुंड धाम के जीर्णोद्धार के लिए दिया है। पूरे प्रदेश के अंदर हम लोग 24 घंटे बिजली दे रहे हैं।

सूर्य कुंड धाम मंदिर के बारे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज से 21,22 वर्ष पहले यहां पानी सूख गया था। तब हमारे माननीय पूज्य गुरुदेव जी ने अपने फंड से ट्यूबवेल की व्यवस्था की थी।

यह सूर्यकुंड जो बदहाल हो चुका था।  यहां पर बहुत कम लोग जाना पसंद करते थे। मैं यहां के नागरिकों को बधाई देना चाहता हूं।

जिन्होंने सूर्य कुंड धाम के पुनरुद्धार के लिए आगे कदम बढ़ाया और यहां पर कई रंगमंच के प्रोग्राम किए। जिससे सूर्य कुंड धाम के सुंदरीकरण के कार्य का शिलान्यास हो रहा है।

ये भी पढ़ें…एक ऐसा शहर जहां प्लास्टिक की बोतलों में नहीं, तांबे के लोटों में मिलता है पानी

प्लास्टिक की रोकथाम के लिए सभी को आगे आना होगा

वहीं मुख्यमंत्री ने प्रदेश में प्लास्टिक की रोकथाम पर कहा कि प्लास्टिक के खिलाफ सरकार ने रोक लगाया है और पर्यावरण संरक्षण के लिए यह बहुत जरूरी है। इसके लिए हम सभी लोगों को आगे आना होगा।

गोरखपुर के विकास के बारे में बखान करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आप देख रहे होंगे। गोरखपुर की सड़कों के चौड़ीकरण का काम चल रहा है। एम्स 1 साल के अंदर शुरू हो जाएगा।

लोगों को दिल्ली,मुंबई दवा कराने के लिए नहीं जाना पड़ेगा। फर्टिलाइजर जल्द शुरू होगा जिससे लोगों को नौकरी का साधन मिलेगा।

यह विकास के पथ पर बढ़ता गोरखपुर है। हम 1200 सौ करोड़ की लागत से बायोफ्यूल का कारखाना जल्द ही गोरखपुर में लगाने जा रहे हैं।

इन योजनाओं का हुआ शिलान्यास व लोकार्पण

2.60 करोड़ से सूर्यकुण्ड स्थल का पर्यटन विकास -शिलान्यास

12.46 करोड़ से बीआरडी मेडिकल कालेज में इलेक्ट्रिक सेफ्टी कार्य -लोकार्पण

94.65 लाख से वीर बहादुर सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज में आरसीसी रोड का निर्माण का लोकार्पण

36.78 करोड़ की लागत से 19.49 किमी लम्बा गोरखपुर-पिपराइच-कप्तानगंज मार्ग का लोकार्पण

1.74 करोड़ से 2.30 किमी लम्बे ग्राम सभा जंगल औराही में सम्पर्क मार्ग का लोकार्पण

77.82 लाख से 1.50 किमी लम्बे डोमिनगढ़ पश्चिम रेलवे के बगल में संपंर्क मार्ग का लोकार्पण

ये भी पढ़ें…भारत-पाक का बाप: यहां देखें दुनिया के टॉप-10 देशों की लिस्ट