गोरखपुर में जीएसटी की टीम की छापेमारी से मचा हड़कंप, कई दुकानें बंद

आज अचानक उस समय साहेबगंज में अफरा तफरी मच गई, जब वाराणसी और गोरखपुर की तकरीबन 5 टीमों ने अचानक साहेबगंज में छापा मार दिया। दर्जनों दुकानों में तलाशी ली गई। छापेमारी के बारें में किसी को कुछ नहीं पता चला है।

गोरखपुर: आज अचानक उस समय साहेबगंज में अफरा तफरी मच गई, जब वाराणसी और गोरखपुर की तकरीबन 5 टीमों ने अचानक साहेबगंज में छापा मार दिया। दर्जनों दुकानों में तलाशी ली गई। छापेमारी के बारे में किसी को कुछ नहीं पता चला है।

गोरखपुर के साहेबगंज में आज उस समय अफरा तफरी मच गई। जब कस्टम विभाग की टीम अचानक अपने दल बल के साथ पहुंच गई, जिसके बाद दुकान खोलने आये व्यापरियों ने दुकान ही नहीं खोला, लेकिन जिसके लिए ये टीम आई थी। उन दुकानों को खुलवा कर वहां  जांचशुरू कर दी, लेकिन इस डर में तमाम दुकानदारों ने दुकानें ही नहीं खोली, साहेबगंज में लगभग सभी दुकानें बंद रही।

आपको बता दे, कि ज्वाइंट कमिश्नर जीएसटी वाराणसी आशुतोष के नेतृत्व में साहबगंज मंडी में 5 टीम के साथ एक साथ छापा मारा गया, गोरखपुर बिना सूचना साहेबगंज में पहुची कस्टम विभाग की टीम के आने से साहेबगंज में हडकम्प मच गया।

ये भी पढ़ें…निषाद पार्टी के नेता और गोरखपुर सांसद प्रवीण निषाद बीजेपी में हुए शामिल

व्यापारी कुछ नहीं समझ पा रहे थे, कि अचानक इस तरह की कार्यवाही का क्या मतलब था, कुछ बता भी नहीं रहे है, जिससे व्यापारी अपना दुकान बंद कर तमाशा बिन बने रहे, फिलहाल पान मसाला और तमाम इस तरह के दुकानों पर कस्टम विभाग की कार्यवाही की जा रही है, क्योकि गल्ला मंडी का ये बहुत बड़ा मार्केट है।

गोरखपुर में अचानक गल्ला मंडी की सबसे बड़ी मार्केट में आचानक आये कस्टम विभाग की टीम से हडकम्प मचा गया, और व्यापरियों ने अपना दुकान ही नहीं खोला, वजह क्या थी, किस तरह की कार्रवाई की थी? ये सब अभी एक पहेली बना हुआ है। फिलहाल कस्टम के अधिकारी अभी इस मामले पर बोलने से बच रहे है, पूछने पर उन्होंने बताया, कि बड़ी कार्यवाही है, शाम तक ब्रीफ करेंगे।

ये भी पढ़ें…गोरखपुर जिला अस्पताल में जिंदा व्यक्ति को भेज दिया मुर्दाघर, मच गया हड़कंप