राजबब्बर बोले- मायावती की स्थिति सबसे खराब, हमारा समझौता सीधे जनता से

बॉलीवुड एक्टर और यूपी कांग्रेस प्रेसिडेंट राजबब्बर शनिवार को 27 साल, यूपी बेहाल, उद्घोष जनसंदेश यात्रा को लेकर बस्ती पहुंचे। जहां राजबब्बर ने कहा कि अभी तक राजनैतिक दलों के नेताओं में सबसे खराब स्थिति बसपा सुप्रीमो मायावती की हुई है। मायावती ने पहले मुलायम और फिर बीजेपी के कुछ नेताओं के साथ मिलकर बड़ा गडबड-झाला किया है। मैं जब आगरा की जनता के बीच गया तो जनता ने मायावती को सबसे खराब नेता करार दिया। प्रदेश की आम जनता का सर्मथन कांग्रेस के साथ है। इस बार हमारा समझौता सीधे जनता से होगा, जिसका सीधा लाभ जनता को मिलेगा।

Published by tiwarishalini Published: August 27, 2016 | 3:29 pm
Modified: August 28, 2016 | 12:48 am

बस्ती: बॉलीवुड एक्टर और यूपी कांग्रेस प्रेसिडेंट राजबब्बर शनिवार को 27 साल, यूपी बेहाल, उद्घोष जनसंदेश यात्रा को लेकर बस्ती पहुंचे। जहां राजबब्बर ने कहा कि अभी तक राजनैतिक दलों के नेताओं में सबसे खराब स्थिति बसपा सुप्रीमो मायावती की हुई है। मायावती ने मुलायम और फिर बीजेपी के कुछ नेताओं के साथ मिलकर बड़ा गडबड-झाला किय। मैं जब आगरा की जनता के बीच गया तो जनता ने मायावती को सबसे खराब नेता करार दिया। प्रदेश की आम जनता का सर्मथन कांग्रेस के साथ है। इस बार हमारा समझौता सीधे जनता से होगा, जिसका सीधा लाभ जनता को मिलेगा।

आगरा की जनता मायावती को स्वीकार करने वालीं नहीं
-राजबब्बर ने कहा कि मैने देखा है कि आगरा में बसपा प्रमुख और यूपी की पूर्व सीएम की राजनैतिक हालत खराब हो चुकी है।
-इसका कारण यह कि उन्होंने जो वादे जनता के साथ किए थे, वह पूरे होने से रहे।
-ऐसे में मायावती को दोबारा आगरा की जनता स्वीकार करने वाली नहीं है।
-राजबब्बर ने कहा कि अगर यही स्थिति रही तो आगरा की जनता स्वयं को बहन कहने वाली मायावती को ठुकरा देगी।
-उन्होंने कहा कि मैं भी आगरा का रहने वाला हूं इसलिए वहां की जनता की अपेक्षाओं को भलीभांति जानता और पहचानता हूं।
-राजबब्बर ने  कहा कि आगरा जैसे साफपाक स्थान के नाम पर घोटाला देश की जनता से छिपा नहीं है।
-उन्होंने कहा कि जिस समाज की नेता मायावती कही जाती हैं अब वही समाज पीछा छुडाना चाहता है।

यह भी पढ़ें … कांग्रेस विधायक समेत सपा, बसपा के नेताओं ने थामा बीजेपी का दामन

बीजेपी, सपा और बसपा ने यूपी की जनता को ठगा
-राजबब्बर ने कहा कि 27 साल के लंबे समय में बीजेपी, सपा और बसपा के नेताओं ने जनता को सिर्फ ठगने का काम किया है।
-बेरोजगारों को रोजगार के नाम पर बरगलाया गया, किसानों की मेहनत को दरकिनार कर गैर कांग्रेसी सरकारों ने केवल अपना उल्लू सीधा करने का काम किया है।

सपा की सभी योजनाएं अधिकारियों के लिए लूट खसोट का जरिया
-राजबब्बर ने कहा कि पूर्वांचल को सोने का कटोरा कहा जाता था। पूर्वांचल में पहले 54 चीनी मिलें थी।
-बीजेपी, सपा और बसपा की सरकार की मिलीभगत से मिलों को बंद करके कबाड़ के भाव में बेंच दिया गया।
-नतीजा यह हुआ कि पूर्वांचल के लाखों परिवारों के मुखिया का रोजगार छिन गया।
-अब प्रदेश की सपा सरकार युवाओं को लैपटॉप और कन्या विद्या धन योजना का ढिंढोरा पीट रही है।
-जबकि हकीकत यह है कि यह योजनाएं अधिकारियों के लिए लूट खसोट का जरिया बन चुकी हैं।