×

योगी जी!  यहां तो बरसाती नदी नालों का पानी पी रहे लोग, प्रशासन मौन

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 18 Aug 2018 11:57 AM GMT

योगी जी!  यहां तो बरसाती नदी नालों का पानी पी रहे लोग, प्रशासन मौन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

सहारनपुर: भले ही बरसात के मौसम में प्रदेश के विधानसभा क्षेत्र बेहट की धरती बारिश के कारण गीली हो गई हो, लेकिन यहां रहने वाली आबादी और मवेशियों को प्यास बुझाने तक का पानी नसीब नहीं हो रहा है। सबके हलक सूख रहे हैं। आलम ये है कि खाना पकाने और पीने के लिए पानी न मिलने के कारण लोगों ने जमकर हंगामा किया। दर्जनों गांव पेयजल किल्लत से जूझ रहे हैं। लोगों को बरसाती नदी का पानी पीकर अपने मवेशियों की प्यास बुझानी पड़ रही है। क्षेत्रीय बरसाती नदी और नालों के पानी पीने से इन सबको संक्रमण का खतरा है। लेकिन यहां का प्रशासन कुंभकर्णी नींद सो रहा है। योगी सरकार की सख्‍ती के बावजूद अधिकारी जनता की बुनियादी जरूरतों के लिए बेहद लापरवाह रवैया अपनाए हुए हैं।

नहीं सुन रहे अधिकारी

शिवालिक पहाड़ियों पर आए दिन हो रही तेज बारिश से नदी नाले बरसाती पानी से उफान पर है तथा कई जगह कहर बरपा रहे हैं। कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं। इसके विपरित घाड क्षेत्र में बरसात के मौसम में भी पेयजल के चलते खवासपुर, हिंदू वाला, मगनपुरा, फैजाबाद आदि दर्जनेां गांव पीने का पानी मयस्सर ना होने के कारण नदी नालों का पानी पेयजल के रूप में उपयोग कर रहे हैं तथा मवेशियों को भी अपने संसाधनों से नहर राज बाहे इत्यादि से पानी ढोकर उनके प्यास बुझा रहे हैं। गांव फैजाबाद, मगनपुरा में जल निगम ट्यूबवेल की मोटर फुंकी थी तो अब विद्युत पोल गिरे हुए हैं। जिसके चलते पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। उधर गांव खवासपुर हिंद वाला में भी इन्हीं समस्याओं से जूझना पड़ रहा है।

विधायक ने दिया सिर्फ आश्‍वासन

शनिवार को गांव फैजाबाद मगनपुरा के लोगों ने जल निगम एवं विद्युत विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए शासन और प्रशासन को जगाने की कोशिश की लेकिन पेयजल किल्लत से निजात नहीं मिल सकी। ग्रामीण बिलाल चौधरी, नवरत्न चौधरी, दिल्ला लाल, दीन शहजाद, फुरकान, बुरा चौधरी, असलम, रूपराम साजिद, इकराम, आजम, रिजवान, चौधरी सोबान आदि लोगों ने विभाग एवं शासन प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया।

क्षेत्रीय विधायक नरेश सैनी ने आश्वासन देते हुए कहा कि घाड़ की जनता को पेयजल किल्लत से नहीं जूझना पड़ेगा उनके द्वारा संबंधित विभाग में अधिकारियों को अवगत कराया गया है जल्दी समस्या समाप्त की जाएगी। हालांकि विधायक से अभी तक सिर्फ आश्‍वासन ही मिला है। कोई भी अधिकारी यहां सुध लेने नहीं पहुंचा है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story