×

अंतराष्ट्रीय चोर गैंग गिरफ्तार, ओरिजनल चाबी से ही चोरी करते थे लग्जरी गाड़ियां

उतरौला पुलिस ने बेहतर काम किया है और जिले में एक बड़ी बरामदगी को अंजाम दिया है उतरौला पुलिस टीम को एक लाख रुपए की नगद धनराशि से पुरस्कृत किया जाएगा।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 8 Feb 2019 4:27 PM GMT

अंतराष्ट्रीय चोर गैंग गिरफ्तार, ओरिजनल चाबी से ही चोरी करते थे लग्जरी गाड़ियां
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बलरामपुर: उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय शातिर चोरों के गिरोह का पर्दाफाश किया है। गिरोह के कुल 8 सदस्यों को पुलिस में गिरफ्तार किया है और इनके पास से 5 लग्जरी गाड़ियां बरामद की हैं। इन चोरो के चोरी के तरीका भी अनोखा था ये पहले गाड़ी की ओरिजनल चाबी चुराते थे पर फिर गाड़ी मालिक की तरह गाड़ी लेकर निकल जाते थे। शातिर चोरों को पुलिस ने उस वक्त गिरफ्तार किया जब वह इन लग्जरी गाड़ियों को गोंडा से उतरौला होते हुए नेपाल में बेचने के लिए ले जा रहे थे।

ये भी पढ़ें— पीएम मोदी के दौरे से पहले सीएम योगी पहुंचे वाराणसी, कार्यक्रम की तैयारियों का लिया जायजा

मामला कोतवाली उतरौला क्षेत्र का है जहां पुलिस ने पुलिस को सूचना मिली थी कि चोरी की पांच लग्जरी गाड़ियां गोंडा के रास्ते उतरौला होते हुए कुछ चोर उसे नेपाल में बेचने के लिए ले जा रहे हैं। सूचना पर उतरौला पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए गुमड़ी जंगल के निकट जाल बिछाकर गाड़ियों का इंतजार किया। कुछ ही देर बाद एक साथ पांच लग्जरी गाड़ियां जंगल की तरफ आती हुई दिखाई दी। पुलिस टीम ने उन्हें रोककर जांच पड़ताल का प्रयास किया तो गाड़ी में बैठे शख्स ने पुलिस पर फायर किया। जिसके बाद पुलिस टीम ने सतर्कता दिखाते हुए उससे असलहा छीन कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

ये भी पढ़ें— इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने पीजीआई के गेट से अतिक्रमण हटाने का दिया आदेश

सभी पांचों गाड़ियों में सवार 8 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की तो और गाड़ियों के वैध दस्तावेज मांगे तो किसी के पास गाड़ियों के कोई भी वैध दस्तावेज मौजूद नहीं थे पुलिस ने जानकारी की तो पता चला कि सभी गाड़ियां चोरी की हैं और इन्हें लखनऊ के अलग अलग जगहों से चुराया गया है। पकड़े गए चोर मंगलेश श्रावस्ती, राहुल-लखनऊ, अजीत वर्मा-लखनऊ, बबलू उर्फ मनीष सिंह-लखनऊ, हामिद-लखनऊ, दीपक चौरसिया-लखनऊ, वकार अहमद-उन्नाव व वकील अहमद सीतापुर का है जो एक साथ मिल कर पूरी चोरी को अंजाम देते थे। एसपी बलरामपुर अमित कुमार ने इस बड़े खुलासे पर पुलिस टीम को 1 लाख रुपये से पुरस्कृत करने की घोषणा भी की है।

पुलिस ने लखनऊ KTL मैनेजर मानवेन्द्र सिंह को भी सूचना देकर बुलाया था जिनके शो रूम से ही शातिर चोरो ने पहले तो चाबी चुराई फिर गाड़ी मालिक की तरह ब्रेजा गाड़ी चुरा ली थी। शोरूम और वर्कशाप से कुल 3 गाड़ियों पर इन चोरो ने हाथ साफ कर दिया। जिसकी cctv फुटेज भी मैनेजर ने पुलिस को उपलब्ध कराई है।

ये भी पढ़ें— मीडिया के माध्यम से संतों को किया जा रहा है बदनाम: अखिलेश्वरानन्द

पूरे मामले पर पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने बताया की इन चोरों के चोरी का तरीका भी नायाब है ये लोगों की डायरेक्ट गाड़ियां नहीं चुराते पहले उनकी चाबी चुराते हैं और फिर उसी चाबी से गाड़ी मालिक की तरह गाड़ी लेकर रफूचक्कर हो जाते हैं। उतरौला पुलिस ने बेहतर काम किया है और जिले में एक बड़ी बरामदगी को अंजाम दिया है उतरौला पुलिस टीम को एक लाख रुपए की नगद धनराशि से पुरस्कृत किया जाएगा।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story