×

Jhansi: झांसी के लिए रहा ब्लैक संडे, अलग-अलग घटनाओं में 5 की मौत, फांसी लगाने से घायल युवक की चार दिन बाद मौत

Jhansi: झांसी के लिए आज का दिन ब्लैक संडे रहा, जिसमें अलग-अलग घटनाओं में 5 लोगों की मौत हुई।

B.K Kushwaha
Updated on: 26 Jun 2022 4:22 PM GMT
Jhansi News In Hindi
X

झांसी के लिए रहा ब्लैक संडे (photo: social media )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Jhansi: मेडिकल कॉलेज (Medical College) इलाज के तड़प रहे युवक ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इस युवक ने चार दिन पहले घरेलू कलह के चलते फांसी का फंदा लगाया था। उपचार के लिए उसे मेडिकल कालेज में दाखिल कराया गया। मगर ठीक तरह का उपचार न होने पर उसने तड़पते-तड़पते दम तोड़ दिया। इसकी सूचना शासन स्तर पर भेजी गई। मृतक के परिजनों ने ठीक तरह से इलाज न करने पर मलबा के चिकित्सकों पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

सदर बाजार थाना क्षेत्र (Sadar Market Thana Area) के भट्टागांव स्थित सिंगर्रा निलासी राजकुमार कुशवाहा सुभाषगंज में मजदूरी करता था। 22 जून की सुबह 10 बजे मां कलावती घर के बाहर सफाई कर रही थी, जबकि राजकुमार कमरे के अंदर चला गया। राजकुमार ने अंदर से दरवाजा बंद करके म्यूजिक सिस्टम ऑन कर लिया। इसके बाद राजकुमार कमरे से बाहर नहीं निकला। इसी बीच मां को लगा कि वह गाना सुन रहा हैं। थोड़ी देर बाद मां आई तो उन्होंने दरवाजा खोला तो दरवाजा अंदर से बंद मिला। खिड़की से देखा तो राजकुमार साड़ी का फंदा बनाकर पंखे पर लटक रहा था। मां के चिल्लाने पर आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और तत्काल राजकुमार को फांसी के फंदे से नीचे उतार लिया। उपचार के लिए उसे मेडिकल कालेज ले गए। यहां रविवार को इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।


चिकित्सकों ने इलाज में बरती लापरवाही: परिजन

परिजनों का कहना है कि राजकुमार को मेडिकल कालेज में ठीक तरह का इलाज मिल जाता तो उसकी जान बच सकती थी। मगर चिकित्सकों ने इलाज में लापरवाही बरती है। इस कारण राजकुमार की जान गई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। उधर, मृतक के भाई सुनील का कहना है कि चार भाई औऱ तीन बहनों में राजकुमार पांचवे नंबर का था। वह थोड़ी गुस्सैल स्वभाव का था। उसकी शादी नहीं हुई थी। पिता कैलाश कुशवाहा मोटर बाइडिंग का काम करते हैं। राजकुमार की मौत को लेकर घर में मातम पसरा है।

शराब पीकर आया तो मां ने डॉटा, फिर उठा लिया खौफनाक कदम

शराब पीकर आए युवा कारोबारी को मां ने फटकार लगा दी। इसी बात से गुस्साएं युवा कारोबारी ने फांसी लगाकर जान दे दी। कुछ दिनों पहले उसकी सगाई हो चुकी थी। सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

प्रेमनगर थाना क्षेत्र (Premnagar Thana Area) के बिहारीपुरा निवासी मोहित गौतम कस्तूरबा मार्केट में गौतम गारमेंट के नाम से दुकान चलाता था। साथ में उसका छोटा भाई ऋषभ गौतम भी दुकान पर बैठता था। छोटे भाई ने बताया कि शनिवार को मोहित दुकान पर नहीं गया और रात साढ़े दस बजे शराब पीकर घर आया। इस पर मां ने डांट दिया और समझाया भी लेकिन मोहित नशे में था और कमरे में घुस गया। इसके बाद मोहित ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। थोड़ी देर बाद मां देखने गई तो कमरा अंदर से बंद था। आवाज देने पर मोहित ने कोई जवाब नहीं दिया और दरवाजा भी नहीं खोला। मां ने खिड़की से देखा मोहित पंखे पर लटका था। दरवाजा तोड़कर मोहित को नीचे उतारा और उपचार के लिए मेडिकल कालेज ले गए। यहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।


बहन की शादी थी 8 जुलाई को

ऋषभ ने बताया कि कोरोनाकाल में उनके पिता दयाराम गौतम की मौत हो गई थी। बड़ी बहन नेहा की 8 जुलाई को शादी होनी है। बहन की शादी से पहले भाई की मौत से कोहराम मच गया। तीन माह पहले मोहित की सगाई हो गई थी। दिसंबर में उसकी शादी होनी थी।

महिला समेत तीन की मौत

एक ओर महिला ने फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वहीं अधिक मात्रा में शराब का सेवन करने से युवक की मौत हो गई। इसके अलावा सर्प के डंसने से किसान की जान चली गई। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

चिरगांव थाना क्षेत्र (Chirgaon police station area) के ग्राम जरियाई निवासी कुसुमा देवी ने कतिपय कारणों के चलते फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। वहीं, हमीरपुर के थाना कुरारा के ग्राम बेरा निवासी मन्नूराम खेत पर काम कर रहा था, तभी सर्प ने डस लिया जिससे वह बेहोश हो गया। उपचार के लिए उसे मेडिकल कालेज लाया गया। यहां उसकी मौत हो गई। उधऱ, ललितपुर के नईबस्ती निवासी जीवन लाल ने अधिक मात्रा में शराब का सेवन कर लिया जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। उपचार के लिए उसे मेडिकल कालेज लाया गया। यहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story