बाबू सिंह का भी माया पर निशाना, कहा- जिसकी थैली भारी उसे हिस्सेदारी

Published by Rishi Published: July 1, 2016 | 2:03 am
Modified: August 10, 2016 | 2:48 am

कानपुरः बीएसपी से स्वामी प्रसाद मौर्या और आरके चौधरी के बगावत के बाद अब बाबू सिंह कुशवाहा ने भी पार्टी की सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधा है। बाबू सिंह कुशवाहा कभी मायावती के करीबी थे और फिलहाल एनआरएचएम घोटाले में आरोपी हैं। इसी घोटाले में आरोपी बनाए जाने के बाद वह बीएसपी से बाहर कर दिए गए थे।

बाबू सिंह कुशवाहा ने क्या कहा?
-बाबू सिंह ने कहा कि बीएसपी का नारा है कि जिसकी जितनी थैली भारी, उसकी उतनी हिस्सेदारी।
-बीएसपी के गठन के वक्त दिए गए नारे अब पार्टी ने भुला दिए हैं। अब बस पैसा कमाने पर जोर है।
-सिर्फ बीएसपी ही गरीबों और मजलूमों की बात करती थी।

कुशवाहा ने और क्या कहा?
-पहले बीएसपी से दलित समाज खासकर बाल्मीकि बड़ी संख्या में जुड़े थे।
-मुझे बेवजह चार साल तक जेल में रखा, जबकि डॉक्टरों की हत्या का राज अब तक नहीं खुला।
-कुशवाहा समाज एकजुट होकर अगले विधानसभा चुनाव में वोट दे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App