फतेहपुर में राम नवमी जुलूस में बवाल, पुलिस ने कई भक्तों को पीटा, DM ने नहीं की कोई कार्रवाई

Published by sujeetkumar Published: April 6, 2017 | 1:58 pm
Modified: April 6, 2017 | 2:29 pm

फतेहपुर: रामनवमी के पर्व पर फतेहपुर में बुधवार को शोभ यात्रा निकाली गई। जिसके समापन के दौरान राम भक्तों और पुलिसकर्मियों के बीच जमकर बवाल हुआ। मामले ने बाद में एक हिंसक रूप ले लिया। पुलिस ने जब मामले को बढ़ता देखा तो हलके बल का प्रयोग किया।

विरोध करने वाला पक्ष गली- गलोच पर उतर आया। देर रात तक हुए हंगामे के बाद रामभक्तों ने सदर कोतवाली के पास शीतला माता मंदिर में धरना दिया और नारेबाजी करते हुए आला अफसरों को हटाने की मांग शुरू कर दी।

शहर में तनाव को बढ़ता देख प्रशासन ने पुलिस बल और पीएसी तैनात कर दिया है। डीएम सेल्वाकुमारी और एसपी उमेश कुमार सिंह ने मौके पर पहुंचे, लेकिन उन्होंने आक्रोशित भक्तों से मिलकर मामले को शांत करने की कोशिश नहीं की। इस मामले पर जब मीडिया ने उनसे बात करने की कोशिश की तो उन्होंने मामूली विवाद बताकर मामले को टाल दिया।

क्या है मामला?
-फतेहपुर में रामनवमी का पर्व परम्परागत तरीके से बुधवार को मनाया गया।
-दोपहर के बाद शहर के अनेक इलाकों से निकले रामभक्तों के काफिले ने शहर के ज्वालागंज के रामलीला मैदान में एकत्र हुए।
-जुलुस का समापन चौक चौराहे पर होना था।

-यहां से परम्परानुसार विभन्न चौकियां अपने मूल स्थान को वापस होनी थी, लेकिन मौजूदा पुलिस ने अचानक रुट परिवर्तन कर दिया।
-जिससे चौक चौराहे में रामभक्तों और पुलिस के बीच नोक झोंक हो गई।

-रामभक्तों की माने तो कई रामभक्तों की पुलिस ने पिटाई कर दी, जिससे लोगों में आक्रोश है।
-मामले को बढ़ता देख पुलिस बल बुलाया गया और मानमनौल के बाद हालात नियंत्रण में किए गए।
-रामभक्तों ने पुलिस कर्मचारियों को सस्पेंड करने की मांग की है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App