चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

छावनी क्षेत्र से समाजवादी पार्टी ने मो. हसन रूमी को मैदान में उतारा है। वह,2012 में भी सपा प्रत्याशी थे लेकिन बीजेपी के रघुनन्दन भदौरिया से हार गए थे। रूमी की लड़ाई फिर उन्हीं से है। सपा ने पहले यहां से बाहुबली अतीक अहमद को प्रत्याशी बनाया था, लेकिन अखिलेश यादव ने उनका टिकट काट दिया।

चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

कानपुर: समाजवादी पार्टी ने कानपुर की दस विधानसभा सीटों में से 9 के लिए अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। इस सूची में कई नए चेहरे हैं। लेकिन जीतना सभी उम्मीदवारों के लिए लोहे के चने चबाने जैसा होगा। 2012 के पिछले विधानसभा चुनाव में सपा को इन दस सीटो में से चार पर जीत हासिल हुई थी l

किदवई नगर विधानसभा सीट
-किदवई नगर विधानसभा सीट 2012 में हुए परिसीमन में अस्तित्व में आई थी।
-यहां से कांग्रेस के अजय कपूर जीते थे, जिनके सामने अब सपा के ओम प्रकाश मिश्रा प्रत्याशी हैं।
-2012 में भी ओम प्रकाश मिश्रा ही सपा प्रत्याशी थे। लेकिन वह तीसरे नंबर पर रहे थे।
-यह सीट ब्राह्मण बहुल है और इसीलिए सपा ने यहां से ब्राह्मण उम्मीदवार उतारा है l

गोविन्द नगर सीट
-गोविन्द नगर विधानसभा सीट से सपा ने योगेन्द्र कुशवाहा को मैदान में उतारा है।
-यहां के लिए एक अनजाना चेहरा है। उनकी लड़ाई बीजेपी के मौजूदा विधायक सत्यदेव पचौरी से है।
-बीजेपी विधायक सत्यदेव पचौरी जनता के बीच रहने वाला चेहरा माना जाता है।

महाराजपुर विधानसभा क्षेत्र
-महाराजपुर विधानसभा क्षेत्र से सपा ने अरुणा तोमर को प्रत्याशी बनाया है।
-अरुणा तोमर के पति लाल सिंह तोमर अकबरपुर से लोकसभा चुनाव लड़े थे लेकिन वह हार गए थे।
-लाल सिंह तोमर पर जमीन कब्जाने के कई आरोप लग चुके हैं।
-अरुणा तोमर परिसीमन से पहले सरसौल विधानसभा क्षेत्र से विधायक रह चुकी हैं।
-अरुणा की सीधी लड़ाई बीजेपी के वर्तमान विधायक सतीश महाना से है।

बिठूर विधानसभा सीट
-बिठूर सीट से समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर से मुनीन्द्र शुक्ला पर भरोसा जताया है.
-पिछले 2012 विधानसभा चुनाव में मुनीन्द्र शुक्ला ने मात्र 500 वोटों से बीएसपी प्रत्याशी आरपी कुशवाहा को हराया था।
-लेकिन 2017 विधानसभा चुनाव में मुनीन्द्र शुक्ला की लड़ाई कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी में शामिल हुए अभिजीत सिंह सांगा से है।
-सांगा पिछले पांच वर्षों से लोगों के बीच सक्रिय रहे हैं।

आर्यनगर क्षेत्र
-आर्यनगर विधानसभा क्षेत्र से सपा ने अमिताभ बाजपेई को मैदान में उतारा है।
-अमिताभ की सीधी लड़ाई बीजेपी विधायक सलिल विश्नोई से है।
-बीजेपी विधायक विश्नोई बीते 15 साल से लगातार विधायक हैं।
-सपा के अमिताभ छात्र राजनीति से निकले हैं और करीब 7 साल से समाजवादी पार्टी से जुड़े हैं।

छावनी विधानसभा सीट
-छावनी विधानसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी ने मो. हसन रूमी को मैदान में उतारा है।
-,2012 के विधानसभा चुनाव में भी सपा ने रूमी को मैदान में उतारा था लेकिन वह बीजेपी के रघुनन्दन भदौरिया से हार गए थे.
-रूमी की लड़ाई फिर बीजेपी विधायक रघुनन्दन सिंह भदौरिया से ही है।
-सपा ने पहले यहां से बाहुबली अतीक अहमद को प्रत्याशी बनाया था, लेकिन अखिलेश यादव ने उनका टिकट काट कर मो हसन रूमी पर भरोसा जताया है।
-छावनी विधानसभा क्षेत्र मुस्लिम बहुल क्षेत्र है। मो हसन रूमी की छवि भी साफ़ सुथरी है।

कल्यानपुर विधानसभा सीट
-कल्यानपुर विधानसभा सीट से सपा ने वर्तमान विधायक सतीश निगम पर भरोसा जताया है।
-इस सीट से बीजेपी और कांग्रेस ने अभी अपने प्रत्याशी घोषित नही किये हैं.
-लेकिन क्षेत्र में विकास के नाम पर लोग मायूस हैं।

सीसामऊ विधानसभा सीट
-सीसामऊ विधानसभा सीट से सपा ने वर्तमान विधायक इरफ़ान सोलंकी को फिर मैदान में उतारा है।
-इरफ़ान सोलंकी की छवि बाहुबली विधायक की है।
-वह चर्चित मेडिकल कालेज कांड और केस्को एमडी विवाद के आरोपों में रहे हैं।
-सोलंकी पर जमीनों पर अवैध कब्जे भी आरोप लगते रहे हैं.
-इस सीट पर कांग्रेस और बीजेपी ने अभी अपने उम्मीदवार घोषित नहीं किये हैं।

बिलहौर विधानसभा क्षेत्र
-बिल्हौर विधानसभा क्षेत्र से सपा ने वर्तमान विधायक शिवकुमार बेरिया को फिर मैदान में उतारा है।
-शिवकुमार बेरिया अखिलेश यादव के मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं.
-जनता में उन्हें लेकर शिकायतें उठती रही हैं।
-यहां से बीजेपी और कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार घोषित नहीं किये हैं।

-घाटमपुर विधानसभा सीट
-इस सीट पर समाजवादी पार्टी ने अबी किसी प्रत्याशी का नाम घोषित नहीं किया है।

आगे स्लाइड्स में देखिए कौन कौन हैं सपा के प्रत्याशी… 

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता

 चुनाव: सपा प्रत्याशियों ने संभाला मोर्चा, आसान नहीं है जीत का रास्ता