Top

व्यापारी को मिला लेटर- 10 करोड़ दो वरना परिवार को मानव बम से उड़ा दूंगा

By

Published on 27 July 2016 3:10 PM GMT

व्यापारी को मिला लेटर- 10 करोड़ दो वरना परिवार को मानव बम से उड़ा दूंगा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: बादशाही नाका थाना क्षेत्र के नयागंज के एक सर्राफा व्यापारी के उस समय पसीने छूट गए जब बुधवार दोपहर उसे एक धमकी भरा लेटर मिला। लेटर में व्यापारी से 15 अगस्त से पहले दस करोड़ रूपए देने की मांग की गई है और इस बारे में किसी को भी बताने पर उन्हें और उनके परिवार को मानव बम से उड़ाने की धमकी दी है।

क्या है मामला ?

-नयागंज के पीपल वाली कोठी में सर्राफा व्यापारी ध्रुव कुमार अग्रवाल की पुस्तैनी ज्वेलरी शॉप है।

-बुधवार दोपहर ध्रुव अग्रवाल के पास एक लेटर बाई पोस्ट आया।

-लेटर मिलने के बाद ध्रुव कुमार के हाथ पैर फूल गए।

-उन्होंने लेटर की जानकारी अपने एसोसिएसन के लोगो को दी।

-एसोसिएसन के लोगो ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।

यह भी पढ़ें ... मौत के 10 घंटे बाद जिंदा हुई 90 साल की बुजुर्ग, सुनाई यमलोक की दास्तां

कौन कौन है परिवार में ?

-ध्रुव कुमार अग्रवाल के परिवार में उनके दो बेटे हैं।

-जिसमें उनका एक बेटा अपनी पत्नी संग अमेरिका में एक कंपनी में जॉब करता है।

-जबकि कानपुर में ध्रुव अग्रवाल अपनी पत्नी और छोटे बेटे शिवम अग्रवाल के साथ रहते हैं।

letter सर्राफा व्यापारी को मिला धमकी भरा लेटर

क्या लिखा है लेटर में ?

-15 अगस्त से पहले दस करोड़ रुपए लेटर में दिए फोन नंबर 7705847218 पर बात कर भिजवाओ, नहीं तो तुम्हारे पूरे परिवार को मानव बम से उड़ा देंगे।

-हमारे जिहादी वहां पहुंच चुके हैं और प्रशासन को इसकी जानकारी नहीं देना।

-हमारा बारूद तुम्हारे मुल्क पहुंच चुका है। अब तुम्हारे घरों में धमाके होंगे।

-तुमने अपने प्रशासन को बताकर कर हमारे कुछ जिहादियो को जन्नत भेजा।

-अगर अपनी सलामती चाहते हो तो दोबारा अपने प्रशासन को मत बताना, नहीं तो मेरा सिर्फ एक ही जिहादी जन्नत जाएगा।

-लेकिन मैं तुम्हारे पूरे परिवार के चीथड़े उड़ा दूंगा।

-जो मैं बोलता हूं वही करता हूं। तुम्हारा जाहिद हुसैन।

kanpur जांच में जुटे पुलिसकर्मी

क्या कहना है पुलिस का ?

-डिप्टी एसपी विवेक त्रिपाठी ने बताया इस मामले में पुलिस ने लेटर की जांच शुरु कर दी है।

-लेटर में जो नंबर लिखा है उसको सर्विलांस में लगा दिया गया है।

-मुकदमा धमकी की धाराओं में दर्ज किया गया है।

-डिप्टी एसपी विवेक त्रिपाठी ने बताया कि यह मामला सीरियस है ।

-हो सकता है किसी ने शरारत की हो, लेकिन पुलिस इसे गंभीरता से ले रही है।

Next Story