गाजियाबाद में सीवर सफाई में 5 की मौत, सीएम योगी ने किया मुआवजे का ऐलान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने जनपद गाजियाबाद में सीवर सफाई के दौरान मृत सफाई कर्मियों की मृत्यु होने पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

लखनऊ: गाजियाबाद में थाना सिहानी गेट के अंतर्गत नंद ग्राम के नजदीक कृष्णा नगर में गुरुवार को सीवर सफाई के दौरान पांच कर्मचारियों की मौत हो गई।

इस हादसे के बाद नगर निगम व जल निगम अधिकारियों में हड़कंप मच गया। पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए जल निगम के प्रबन्ध निदेशक को मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपयों की सहायता राशि अविलम्ब प्रदान करने के निर्देश दिये हैं।

ये भी पढ़ें…यूपी में जानिए कहां पर एक रुपये में मिलेगा भरपेट भोजन?

गाजियाबाद में नंद ग्राम के पास सिहानी से सटी प्राइवेट कॉलोनी कृष्णाकुंज में जल निगम ने सीवर लाइन बिछाई थी। अभी यह सीवर लाइन चालू नहीं हुई है।

सीवर लाइन में बंद लगने के कारण गैस बनी हुई थी जिसका इन सफाई कर्मचारियों ने ध्यान नहीं रखा। गुरुवार को दोपहर 1:30 बजे पांच कर्मचारी सीवर सफाई के लिए 13 फुट गहरे मेनहोल में उतरे थे जिनकी दम घुटने से मौत हो गई।

ये भी पढ़ें…करोड़पति बनेगी दिव्यांग बिटिया, उन्नाव से हॉट सीट तक का सफर

पांचों मृतक आपस में रिश्तेदार थे और सभी बिहार के सीवान जिले के रहने वाले थे। दोपहर 2:00 बजे के करीब पांचों शव बाहर निकाले गए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने जनपद गाजियाबाद में सीवर सफाई के दौरान मृत सफाई कर्मियों की मृत्यु होने पर गहरा शोक व्यक्त किया।

मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख का  मुआवजा

मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतृप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने जल निगम के प्रबन्ध निदेशक को निर्देशित किया है कि मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की सहायता राशि अविलम्ब प्रदान करें।

मुख्यमंत्री ने जल निगम के प्रबन्ध निदेशक को घटना के कारणों की जांच कराने और उसकी आख्या को दो दिनों के भीतर उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये हैं।

ये भी पढ़ें…गोरखपुर में छात्रों से बोले सीएम योगी: डिग्री पाकर सिर्फ नौकरी के पीछे न भागें