अमित शाह ने काकोरी में तिरंगा फहराया, कहा-यूपी के विकास के लिए BJP जरूरी

अमित शाह ने कहा कि आजादी मिले करीब 70 साल हो गए जिसमें 60 साल तक एक ही पार्टी या कहें एक ही परिवार का शासन रहा। इन 60 सालों में देश को आजादी दिलाने वाले शहीदों को भुला दिया गया । लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। बीजेपी के कार्यकर्ता देश केि सभी शहीद स्थलों पर जा कर शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे ।

काकोरी/लखनऊ: बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को राजधानी से सटे काकोरी को पर्यटन क्षेत्र में विकसित करने की घोषणा की। काकोरी के शहीद स्थल पर राम प्रसाद बिस्मिल और अशफाकउल्ला खान को श्रद्धांजलि अर्पित करने आए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि काकोरी को पर्यटन  स्थल के रूप में विकसित करने के लिए वो पीएम नरेंद्र मोदी से बात करेंगे।

यह भी पढ़ें…जम्मू-कश्मीर में ‘तिरंगा यात्रा’ का नेतृत्व करेंगे जितेंद्र सिंह और किरन रिजिजू

भुला दिया शहीदों को 
-अमित शाह ने कहा कि वो इस स्थल पर राजनीति की बात नहीं करेंगे लेकिन उनका पूरा भाषण राजनीति पर ही केन्द्रित रहा।
-अमित शाह ने कहा कि आजादी मिले करीब 70 साल हो गए जिसमें 60 साल तक एक ही पार्टी या कहें एक ही परिवार का शासन रहा।
-इन 60 सालों में देश को आजादी दिलाने वाले शहीदों को भुला दिया गया । लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। बीजेपी के कार्यकर्ता देश केि सभी शहीद स्थलों पर जा कर शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे ।
-उन्होंनें कहा कि आजादी के इतने साल बाद भी लोगों के घरों तक बिजली,पानी और शिक्षा नहीं पहुंच सकी है ।

अमित शाह ने और क्या कहा
-लोग संकल्प लेकर जाएं कि विधानसभा चुनाव में बीजेपी की सरकार बनाएंगे।
-सपा और बसपा से यूपी का विकास संभव नहीं।
-सपा में एक जाति विशेष का विकास होता है जबकि बसपा में उनकी प्रमुख का।
-सपा और बसपा भ्रष्टाचार की पर्याय हैं।
-यूपी सरकार उज्जवला योजना में रोड़ा अटका रही है।
-इसी तरह एम्स के लिए जमीन देने में भी आनाकानी की गई।
-यूपी के बिना देश का विकास संभव नहीं ।
-यूपी ने ही केंद्र में बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनवाई ।
-बीजेपी यूपी को विकास के रास्ते पर ले जाना चाहती है।
-ताकि यहां के युवाओं को रोजगार के लिए दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़े।
-कार्यक्रम के बाद अमित शाह दलित परिवार के साथ भोजन करेंगें।