पेट के कीड़े मारने की दवा खाकर 19 बच्चे पहुंचे हॉस्पिटल 

एक से 19 साल तक के बच्चों को पेट के कीड़े मारने वाली गोली एलबेन्डाजोल 400 मि.ग्रा. दी गई थी। दवा पीने के कुछ समय बाद बच्चों की हालत एकदम खराब हो गई। किसी के पेट में दर्द, किसी के सिर में दर्द तो कोई बेहोश होने लगा।

Published by Newstrack Published: February 11, 2016 | 7:38 pm
Modified: August 10, 2016 | 2:26 am
बुलंदशहर: बुलंदशहर के शिकारपुर के गांव खखूडा के एमपी पब्लिक स्कूल के 19 बच्चे गुरुवार को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर पेट के कीड़े मारने की गोलियां खाकर हॉस्पिटल पहुंच गए। स्कूल प्रबंधन ने बीमार बच्चों को शिकारपुर सीएचसी में भर्ती कराया।

क्या है मामला?
-एक से 19 साल तक के बच्चों को पेट के कीड़े मारने वाली गोली एलबेन्डाजोल 400 मि.ग्रा. दी गई थी।
-दवा पीने के कुछ समय बाद बच्चों की हालत एकदम खराब हो गई।
-किसी के पेट में दर्द, किसी के सिर में दर्द तो कोई बेहोश होने लगा।
-खराब हालत में बच्चों को कस्बे के ही डाक्टरों के पास इलाज के लिए ले जाया गया, किसी को कोई फायदा नही हुआ।

क्या कहते हैं डॉक्टर
-सीएचसी के डाक्टर बलराज सिंह के अनुसार दवा के बाद पेट में दर्द होना आम बात है।
-बेहोश व उल्टी होना गंभीर मामला।