लखनऊ में आयोजित होगा दूसरा UP प्रवासी दिवस, CM ने दी मंजूरी

लखनऊ: दूसरा यूपी प्रवासी दिवस 4 से 6 जनवरी के बीच लखनऊ में आयोजित होगा। सीएम अखिलेश यादव ने इसके लिए मंजूरी दे दी है। इसका मकसद यूपी के डेवलपमेंट में एनआरआई की भागीदारी बढ़ाना है।

सहयोगी की तलाश
-इस आयोजन के लिए सहयोगी संस्था का सेलेक्शन एक सेलेक्शन कमेटी करेगी, जिसके चेयरमैन प्रिंसिपल सेक्रेटरी, एनआरआई डिपार्टमेंट होंगे।
-इंडस्ट्रियल इंस्टीट्यूशन्स और दूसरे ऑर्गेनाइजेशन जैसे फिक्की, सीआईआई, पीएचडी चैम्बर आफ कॉमर्स और एसोचैम इण्डिया में से सहयोगी संस्था का चयन होगा।
-स्पेशल सेक्रेटरी, एनआरआई विभाग इस चयन समिति के सदस्य संयोजक होंगे।

-चयन समिति के अन्य सदस्यों में प्रमुख सचिव वित्त, प्रमुख सचिव नियोजन, प्रमुख सचिव पर्यटन, प्रमुख सचिव सूचना, सचिव संस्कृति, प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास, प्रमुख सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम और निर्यात प्रोत्साहन, प्रबन्ध निदेशक उत्तर प्रदेश वित्तीय निगम शामिल हैं।

जुड़ेंगे एनआरआई
-पहला यूपी एनआरआई दिवस पिछले साल 4 से 6 जनवरी को आगरा में हुआ था।
-राज्य सरकार ने हर साल उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस के आयोजन का फैसला लिया है।
-इसका मकसद एनआरआई का उनकी मातृभूमि से उनके संबंधों को मजबूत करना है। ताकि वो यूपी के डेवलपमेंट में भागीदार बन सकें।