सीएसजेएमयू : यूपी बोर्ड की तर्ज पर परीक्षा,CCTV कैमरे लगाने के आदेश

अब यूपी बोर्ड की तर्ज पर  छात्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय की परीक्षाएं होगी।जिसमें 9 लाख 18हजार 420 रेगुलर और तकरीबन 55000 प्राइवेट छात्र परीक्षा देंगे। सभी 484 सेंटरो में सीसी टीवी कैम्र्रे लगाने आदेश सीएसजेएमयू की वीसी नीलि

Published by Anoop Ojha Published: February 22, 2018 | 9:28 pm
Modified: February 22, 2018 | 9:45 pm
सीएसजेएमयू : यूपी बोर्ड की तर्ज पर परीक्षा, CCTV कैमरे लगाने के आदेश

सीएसजेएमयू : यूपी बोर्ड की तर्ज पर परीक्षा, CCTV कैमरे लगाने के आदेश

कानपुर:यूपी बोर्ड की तर्ज पर छात्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय की परीक्षाएं होगी। जिसमें 9 लाख 18हजार 420 रेगुलर और तकरीबन 55000 प्राइवेट छात्र परीक्षा देंगे। सभी 484 सेंटरो में सीसी टीवी कैम्र्रे लगाने आदेश छात्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय की वीसी नीलिमा गुप्ता ने दिए है।सभी केंद्र सीसी टीवी कैमरे से रिकार्डिंग कर उसकी सीडी सीएसजेएमयू में देना होगा।यह परीक्षा 6 मार्च से शुरू होने जा रही है,वही नक़ल करने और नक़ल कराने वालों  पर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

सीएसजेएमयू : यूपी बोर्ड की तर्ज पर परीक्षा, CCTV कैमरे लगाने के आदेश
सीएसजेएमयू : यूपी बोर्ड की तर्ज पर परीक्षा, CCTV कैमरे लगाने के आदेश

सूबे के निजाम की सोच परीक्षा की स्वच्छता को लेकर क्या बदली, चीजें ढर्रे पर नजर आने लगी।पहले यूपी बोर्ड की परीक्षा में सख्ती का असर दिखा ,जिसके चलते लाखों परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी,वही सख्ती अब विश्वविद्यालय की परीक्षाओं में भी देखने को मिलेगी।कानपुर के छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय ने नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए कमर कस ली है। जिसके चलते सभी परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी लगाए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

छात्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय की वीसी नीलिमा गुप्ता के मुताबिक जिला प्रशासन जब इंटरमीडिएट की परीक्षाओं में सहयोग कर रहे है तो मुझे विश्वास है कि वह विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को संपन्न कराने के लिए तैयार होंगे। यूपी बोर्ड ने भी प्रशासन की सहायता ली है और हम भी प्रशासन की सहायता ले रहें है। शासन व् प्रशासन का भी यही मत है कि नक़ल विहीन परीक्षा हो। जितने भी हमारे 484 केंद्र बने है सभी निर्देश दिए गए है कि सभी सीसीटीवी कैमरे लगाये इसके साथ ही उसकी सीडी विश्वविद्यालय को उपलब्ध कराये।

सीसी टीबी से यह प्रूफ होगा कि वहां पर नक़ल हुई है यह नहीं हुई है।हम जो फ़्लाइंग स्क्वायड बनायेंगे उसमें मिक्स कम्पोजीशन होगाlइसमें कैम्पस से हमारे फैकल्टी मेंबर होगे,गवर्मेंट कालेज से होगे,एडेड कालेज से होगे,एक सेल्फ फाइनेंस कालेज से होगे,एक हमारे ऑफिस को रिप्रेसेन्ट करेंगे एक महिला होगी। यह फ़्लाइंग स्क्वायड की टीम रहेगी। हम इस टीम को रोटेड करते रहेंगे ताकि यह शिकायत न आये कि फ़्लाइंग स्क्वायड की टीम एक ही कालेज में जा रही है। विश्वविद्यालय का अधिकार किसी को जेल भेजना नहीं है विश्वविद्यालय इतना करेगा कि ऍफ़आईआर करके पकडवा देगा लेकिन जेल नही भेजेगा।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App