VIDEO: पतंजलि प्रोडक्ट्स के खिलाफ फतवा, कहा- मुस्लिम ना करें इस्तेमाल

Published by Published: May 18, 2016 | 7:30 pm
Modified: August 10, 2016 | 2:29 am

बरेली: योग गुरु बाबा रामदेव के पतंजलि प्रोडक्ट्स के खिलाफ दरगाह आला हजरत से बरेलवी ने फतवा जारी हुआ है। इस फतवे में कहा गया है कि पंतजलि के उत्पादों में गौ मूत्र मिलाया जाता है। ऐसे सभी  प्रोडक्ट्स जिनमे गौमूत्र की मिलावट हो उनका खाना और लगाना भी हराम है। ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल मुसलमान ना करें।

यह भी पढ़ें … VIDEO: पतंजलि की शुद्धता पर फिर खड़े हुए सवाल, आटे में निकले कीड़े

देखें वीडियो …
[su_youtube url=”https://youtu.be/YOpwyU6_3Wc” width=”620″ height=”440″]

गौमूत्र से बनीं दवा भी नाजायज और हराम
-बरेलवी संप्रदाय को मानने वाले दरगाह आला हजरत के मरकजी दारुल इफ्ता ने बाबा रामदेव के पतंजलि प्रोडक्ट्स के खिलाफ फतवा जारी किया है।
-इसमें कहा गया है कि पेशाब नापाक है।
-अगर इसका इस्तेमाल दवा में भी किया जाता है, तो दवा भी नाजायज और हराम है।

मुसलमान ना करें इस्तेमाल
-आला हजरत बरेली के प्रवक्ता मौलाना शाहबुद्दीन ने बताया कि मरकजी दारुल इफ्ता से मुहम्मद बख्तयार खां ने पतंजलि कंपनी के प्रोडक्ट्स के बारे में पूछा था।
-उनका दावा था कि कंपनी में जितने भी प्रोडक्ट्स बनाए जाते हैं सभी में गोमूत्र मिलाया जाता है।
-शरियत के लिहाज से पतंजलि के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना जायज है या नहीं?

यह भी पढ़ें योग दिवस में न जाएं मुस्लिम, ओम का उच्चारण गैर इस्लामीः दारुल उलूम

-इस पर मरकजी दारुल इफ्ता के सदर मुफ्ती मोहम्मद हकीम मुजफ्फर हुसैन कादरी और मुफ्ती मुहम्मद अली रजवी ने कहा कि पतंजलि हो या कोई और कंपनी अगर किसी भी प्रोडक्ट में गौमूत्र की मिलावट  है, तो वह हराम है।
-ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल मुसलमान ना करें।
-फतवे में ऐसे प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल को हराम करार दिया गया है।