अनूठी पहल: सोलर बिजली से साल भर में 24 लाख रुपए की बचत करेगा IISR

सौर उर्जा​ विकसित करने की दिशा में राजधानी लखनऊ स्थित भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान (IISR) ने अभिनव पहल की है। संस्थान में 250 किलोवाट सौर उर्जा का पावर ग्रिड लगाया गया है।

अनूठी पहल: सोलर बिजली से साल भर में 24 लाख रुपए की बचत करेगा IISR अनूठी पहल: सोलर बिजली से साल भर में 24 लाख रुपए की बचत करेगा IISR अनूठी पहल: सोलर बिजली से साल भर में 24 लाख रुपए की बचत करेगा IISR

लखनऊ: सौर उर्जा​ विकसित करने की दिशा में राजधानी लखनऊ स्थित भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान (IISR) ने अभिनव पहल की है। संस्थान में 250 किलोवाट सौर उर्जा का पावर ग्रिड लगाया गया है। इससे मई महीने में 30 हजार यूनिट बिजली भी मिली। संस्थान को बिजली​ बिल भुगतान के मद में दो लाख रुपए की बचत भी हुई। IISR सौर उर्जा के इस्तेमाल से साल भर में 24 लाख की बचत करेगा।

IISR की छतों पर लगाए गए हैं सौर उर्जा पैनल
संस्थान ने भवनों की छतों पर सौर उर्जा पैनल लगाया है। इसके लिए जिस निजी कंपनी से करार किया गया है वह फर्म संस्थान को 6 रुपए प्रति यूनिट की दर से बिजली देगी। इसके उलट अब तक संस्थान विदयुत उत्पादन कंपनी से 12 रुपए प्रति यूनिट की दर से बिजली खरीदता है।

संस्थान के अधिकारियों का कहना है कि IISR बची हुई राशि को रिसर्च पर खर्च करेगा। जिससे नई तकनीकी विकसित करने में मदद मिल सके। यह पर्यावरण और देश के प्रति सकारात्मक योगदान होगा।

वर्तमान समय में बिजली की मांग बढ़ती जा रही है। इसे पूरा करना असंभव सा होता जा रहा है। प्रचलित तरीके से विदयुत उत्पादन (कोयला, पनबिजली, नाभिकीय बिजली) मंहगा है। पर्यावरण के लिए भी घातक सिद्ध हो रहा है। यह देखते हुए भारत सरकार अक्षय उर्जा से बिजली उत्पादन का प्रयास कर रही है।