वाह! भीगते रहे बच्चे, माननीय टेंट के नीचे देते रहे भाषण

भले ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में अफसरों से उनके रवैय्ये में बदलाव की अपील करते रहे उन्हें नसीहत देते रहे लेकिन अधिकारी है की सुधरने को तैयार नहीं। आज भी ऐसा ही । मुख्यमंत्री आवास पर होमगार्ड विभाग का नमामि गंगे को लेकर आयोजन

Published by tiwarishalini Published: August 9, 2017 | 3:31 pm
Modified: August 9, 2017 | 5:38 pm

लखनऊ: भले ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में अफसरों से उनके रवैय्ये में बदलाव की अपील करते रहे उन्हें नसीहत देते रहे लेकिन अधिकारी है की सुधरने को तैयार नहीं। आज भी ऐसा ही । मुख्यमंत्री आवास पर होमगार्ड विभाग का नमामि गंगे को लेकर आयोजन था, जिसमे मुख्यमंत्री समेत होमगार्ड विभाग के बड़े अधिकारी मौजद थे, इस आयोजन में छोटे छोटे बच्चों को भी बुलाया गया था।

कार्यक्रम के दौरान अचानक बारिश होने लगी, उस वक्त तमाम मंत्री और अधिकारी मंच पर वाटरप्रूफ पंडाल में थे लेकिन बच्चों को मंच के नीचे ही बारिश में बैठाया गया जहाँ छोटे छोटे बच्चे भीगते रहे और होमगार्ड मंत्री भाष देते रहे।

प्रोग्राम के दौरान तेज बार‍िश हो रही थी और बच्चे भीग रहेी थे, इस पर सीएम योगी ने कहा कि ”यहां जो लोग भीग रहे हैं, वो गंगा मैया की कृपा है। अगर किसी को चर्म रोग होगा तो वो दूर हो जाएगा।”

जब इस बाबत होमगार्ड विभाग के मंत्री अनिल राजभर से सवाल किया गया तो उनका कहना था की आप लोग इसमें निगेटिव मत खोजिये ,इतना अच्छा कार्यक्रम हुआ है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 5 कालीदास मार्ग पर नमामि गंगे जाग्रति यात्रा की औपचारिक शुरुआत की। ये यात्रा गंगा की सफाई के लिए निकाली जा रही है।

25 जिलों के 108 विकासखंडों से ये जागृति यात्रा गुजरेगी। इस यात्रा में 1 लाख 25 हजार होमगार्ड्स भाग लेंगे। ये यात्रा यूपी होमगार्ड विभाग की तरफ से निकाली जा रही है।