IMPACT: बुजुर्ग के गाल पर थप्पड़ मारने वाले DIG को CM ने किया सस्पेंड

लखनऊ:शॉपिंग के दौरान बुजुर्ग को थप्पड़ मारने वाले डीआईजी डीके चौधरी को सीएम ने सस्पेंड करने का आदेश जारी कर दिया है। सीएम ऑफिस की ओर से ट्वीट कर इसकी जानकारी दी गई। इससे पहले डीजीपी जावीद अहमद ने भी जांच के आदेश दिए थे। newztrack.com ने इस घटना के वीडियो और न्यूज को प्रमुखता से उठाया।

सीएम ऑफिस का ट्वीट
सीएम ऑफिस का ट्वीट

क्या है मामला?
-मामला शहर के गाजीपुर थाने का है। मंगलवार रात आम्रपाली मार्केट में डीआईजी देवेंद्र कुमार चौधरी खरीददारी करने पहुंचे थे।
-उनके साथ सीओ गाजीपुर दिनेश पुरी और एसओ आलोक मणि त्रिपाठी  भी साथ थे, लेकिन अचानक उनको मार्केटिंग छोड़कर पुलिस गिरी करने की सूझी।
-उन्होंने वहां पर खोमचा लगाए एक बुजुर्ग पर रोब झाड़ना शुरू कर दिया।
-डीआईजी उस बुजुर्ग पर अतिक्रमण करने का आरोप लगाते हुए फटकार लगाने लगे।
-उनके पुलिसिया रौब से डर कर वह अपना सामान हटा ही रहा था कि डीआईजी ने उसे सरेआम थप्पड़ जड़ दिया।

-वीडियो वायरल होने के बाद डीजीपी जावीद अहमद ने इस मामले का संज्ञान लिया है।
-उन्होंने डीआईजी से स्पष्टीकरण मांगा है। डीजीपी ने एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी से भी जांच करने को कहा।

‘सिखाई गई बुद्धि, ढाई घड़ी’
ये घटना तब घटी जब पुलिस के मुखिया ने चार दिन पहले एक सर्कुलर जारी कर कहा था कि पुलिस अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक सड़कों और गली-मोहल्ले में पैदल घूम-घूम कर जनता से मिले और उनके बीच पुलिस की सकारात्मक छवि बनाएं, लेकिन सड़कों पर उतरने के बाद डीआईजी साहब ये बात भूल गए और अपनी छवि सुधारने के चक्कर में बुजुर्ग पर हाथ उठा दिया। उनके लिए तो यही कहावत – ‘सिखाई गई बुद्धि, ढ़ाई घड़ी ‘ चरितार्थ होती है।