जलनिगम अधिकारी का हुआ था किडनैप, फ्लाइट रुकवाकर पकड़े आरोपी

Published by Published: August 11, 2016 | 10:08 am
Modified: August 11, 2016 | 5:33 pm
kidnaipers arrested

प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: जलनिगम के सेक्शन अधिकारी को राजधानी के गाजीपुर थाना क्षेत्र से किडनैप कर लिया गया था। आईजी जोन ए सतीश गणेश के निर्देशन में बनी पुलिस टीम ने उनके किडनैपर्स को फ्लाईट रुकवाकर अरेस्ट कर लिया और जलनिगम के सेक्शन अधिकारी को किडनैपर्स के चंगुल से छुड़ाया।

क्या है मामला?
अब्दुल सलीम फरीदी (56) इंदिरानगर जलनिगम कॉलोनी के सेक्टर 24 में रहते है।
-सोमवार शाम सात बजे आगरा से आए ठेकेदारों के साथ घर से निकले थे।
-ठेकेदार जसवीर सिंह सोनी, अजय सूरी और प्रेमप्रकाश गुप्ता के साथ गए थे।

-सलीम देर रात तक घर नहीं लौटे तो पत्नी परवीन ने बेटे अजीम को बताया।
-अजीम ने पिता को साथ लेकर निकले ठेकेदार जसवीर को कॉल किया।
-जसवीर ने बताया कि सलीम को इंदिरा भवन के पेट्रोलपंप पर छोड़ दिया था।

-संदेह होने पर अजीम ने पुलिस को सूचना दी।
-पुलिस ने हुसैनगंज के एक होटल में रुके तीनों ठेकेदारों से पूछताछ की।
-कोई नतीजा न निकलते देख अजीम ने पिता की गुमशुदगी दर्ज कराई।

मांगी गई फिरौती
पुलिस इलेक्ट्रानिक सर्विलांस से अब्दुल सलीम के मोबाइल का कॉल डिटेल और लोकेशन ट्रेस कर रही थी तभी परिजनों को कॉल करके दस लाख रूपए की फिरौती मांगी गई। काल करने वाले और अब्दुल सलीम के मोबाइल की लोकेशन इलाहाबाद में मिली। इस पर पुलिस बेटे अजीम के साथ इलाहाबाद गई थी।

वहां दो किडनैपर्स की हत्या कर दी गई थी जबकि मारे गए बदमाशों का एटीएम कार्ड इस्तेमाल कर जलनिगम के अधिकारी को फ्लाईट से कहीं बाहर ले जाने का प्लान था, लेकिन पुलिस टीम ने अमौसी एयरपोर्ट पर फ्लाईट रुकवाकर किडनैपर्स को अरेस्ट कर लिया। पुलिस आरोपी जितेश और इमरान से पूछताछ कर रही है।