LAW & ORDER-डेवलपमेंट के मुद्दे पर UP में चुनाव लड़ेगी BSP: सतीश मिश्र

लखनऊः बीएसपी से तीसरी बार राज्यसभा के लिए नामांकन करने के बाद  सतीश मिश्र ने शनिवार को कहा कि पार्टी लॉ एंड ऑर्डर और डेवलपमेंट को मुद्दा बनाकर यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ेगी। विकास के मुद्दे पर सपा सरकार को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि चाहे लखनऊ हो या प्रदेश का कोई और शहर, विकास में सपा सरकार पीछे है।

यह भी पढ़ें… BSP से सतीश चंद्र मिश्र ने राज्यसभा के लिए किया नामांकन

जो कई वर्षों से बीएसपी से जुड़ा है, उसे भेजा राज्यसभा
-राज्यसभा सदस्य के लिए बिल्डरों और उद्योगपतियों को कैंडिडेट बनाकर भेजे जाने के सवाल पर मिश्रा ने कहा कि सपा के कैंडिडेट को लेकर हम कोई कमेंट नहीं करेंगे।
-यह उनकी पार्टी का डिसीजन है। पर बीएसपी ने किसी उद्योगपति को राज्यसभा नहीं भेजा है।
-जो राज्यसभा में जा रहे हैं, वे पहले एमएलसी थे। दूसरी पार्टियां क्या कर रही हैं उस पर कुछ नहीं कहेंगे।

बीएसपी खुद में एक टीम, कैप्टन हैं मायावती
-विपक्षी दल चुनाव के पहले अपनी टीम बना रहे हैं।
-इस बारे में पूछे जाने पर बीएसपी महासचिव ने अप्रत्यक्ष तौर पर सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि ना हम लोग क्रिकेट खेलते हैं और ना टीम बनाते हैं।
-जो लोग क्रिकेट खेलते हैं उनको टीम बनाने दीजिए। हमारी पार्टी खुद में एक टीम हैं जिसकी कैप्टन बीएसपी मुखिया मायावती है।

सतीश चंद्र मिश्र ने और क्‍या कहा?
-बीएसपी ने पहले से ही अल्पसंख्यक समाज से मुनकाद अली को राज्यसभा भेजा हुआ है।
-चुनाव में सपा दूसरे पर रहेगी और भाजपा तीसरे नम्बर पर।
-मोदी ने केंद्र सरकार ने कुछ नहीं किया है सिवाय छलावे के।
-हर तरफ मारामारी, चाहे रोजगार या उद्योग हो।
-वह हर चीज में नाकाम रहें।

स्वामी प्रसाद मौर्या ने यह कहा
-बीएसपी ने सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय का जो नारा दिया था।
-उसका ध्यान रखते हुए प्रत्याशियों का चयन कर इस नारे को साबित भी किया गया है।
-राज्यसभा कैंडिडेट में एक सर्व समाज से हैं और दूसरे अनुसूचित जाति से हैं।
-एमएलसी कैंडिडेट्स के चयन में भी एससी और पिछड़ी जातियों का ख्याल रखा गया है।