CM से बोले मौर्या- टीपू बना सुल्तान, लेकिन राजकुमारों के हाथ में तलवार

लखनऊ: विधानसभा में बुधवार को विपक्ष के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या ने सीएम अखिलेश यादव के बजट भाषण का जिक्र किया और कहा कि ”जब उन्होंने सीएम को अपने दाएं-बाएं के लोगों से होशियार रहने का इशारा किया था तब उन्हें यह बात समझ में नहीं आई। अब चार साल बाद उन्होंने अपने बजट भाषण में कहा ”तैरने का हौसला दिया” की बात कही। मौर्या ने कहा कि अब बहुत देर हो गई है। भंवर में तो नैया डूबेगी। टीपू तो सुल्तान बन गया लेकिन तलवार राजकुमारों के हाथ में चली गई। मौर्या ने कहा कि अब भंवर में तैरने का हौसला रखने से बात नहीं बनने वाली।

लैपटाप और कन्या विद्याधन के लिए लगा दी शर्तें
-सरकार ने अपने घोषणापत्र में जो वादे किए थे। इनमें से लैपटाप, बेरोजगारी भत्ता, कंबल, साड़ी सब गायब हो गए हैं।
-लैपटाप और कन्या देने के लिए शर्तें लगा दी गई हैं।
-यह जनादेश के साथ धोखा है।

जातियों को एससी/एसटी में शामिल करने का ​अधिकार केंद्र को तो फिर वादे क्यों?
-बसपा सरकार के पहले और बाद की सरकार में सपा ने 17 पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति में शामिल करने का ऐलान किया था।
-अब तक यह नहीं हो पाया है, जबकि हम जानते हैं कि इन्हें एससी में शामिल करने का अधिकार केंद्र को है तो फिर वादे क्यों?

दलित महापुरुषों के साथ पूर्व की सरकारों ने किया सौतेला व्यवहार
-दलितों के महापुरुषों के साथ पूर्व की सरकारों ने सौतेला व्यवहार किया। हमने सम्मान दिया।
-अगर हम किसी महापुरुष को सम्मान दे रहे हैं तो उस पर उंगली उठाना उनका अपमान है।
-अब यदि उनके सम्मान में हमने कुछ किया तो और लोगों के पेट में दर्द क्यों हो रहा है।
-अब अगर जाति के नाम पर महापुरुषों का बंटवारा होगा तो जनता माफ नहीं करेगी।

15 सिंतबर के बाद लग जाएगी आचार संहिता
मौर्या ने कहा कि जैसे 2012 में अक्टूबर में चुनाव होना था पर पहले आचार संहिता लग गई और 15 मार्च को सरकार बन गई। इसी तरह 15 सितंबर के बाद आचार संहिता लग सकती है।

-मौर्या ने कहा की टीपू सुल्तान तो बना मगर उनकी तलवार तो रामपुर चली गई
-आजम ने कहा की मुझे डर है की सुल्तान के हाथ में तलवार रही और आप सामने पड़ गए तो क्या होगा।
-मौर्या ने कहा की जब कई बार हमने सीएम को लाचार मुख्यमंत्री कहा था तो सत्ता पक्ष के लोगों ने कहा की यह  आपको नहीं कहना चाहिए था पर यह ये शेर कहकर फंस गए।
-सीएम ने मौर्या की चुटकी लेते हुए कहा की दरअसल इनको डांट खाने की आदत है अध्यक्ष जी, आपने इनको सही से डांटा नहीं।