उन्नाव केस: पीड़ित इस लड़ाई में अकेली नहीं, पूरा देश उसके साथ : स्वाति मालीवाल

उन्नाव जनपद के माखी दुष्कर्म कांड में नया मोड़ आ गया। रविवार को रायबरेली में हुए सड़क हादसे में पीड़ित की चाची और मौसी की मौत हो गई थी। जबकि इस मामले में पीड़ित उसके वकील समेत तीन लोग घायल हो गये थे।

लखनऊ: उन्नाव जनपद के माखी दुष्कर्म कांड में नया मोड़ आ गया। रविवार को रायबरेली में हुए सड़क हादसे में पीड़ित की चाची और मौसी की मौत हो गई थी।

जबकि इस मामले में पीड़ित उसके वकील समेत तीन लोग घायल हो गये थे। सोमवार को इस मामले में पीड़ित से मिलने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष लखनऊ पहुंची।

ये भी पढ़ें…सेहत के लिए फायदेमंद या कुछ और कारण, जानिए क्यों जाते हैं मंदिर

अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रही पीड़ित युवती से मिलने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष लखनऊ पहुंची। उन्होंने पीड़ित युवती और उनके वकील महेन्द्र सिंह का हालचाल जाना।

इसके बाद वह के परिजनों से मिली। डॉक्टर ने उन्हें बताया कि लड़की और वकील की हालत बेहद नाजुक है और बचने के आसार बहुत ही कम दिख रहे हैं।

उनका कहना है कि दोनों की हालत बेहद गंभीर है। उन्हें इलाज के एयर लिफ्ट कर दिल्ली के बेस्ट अस्पताल में ले जाना चाहिए। परिवार भी यही चाहता है, इलाज के लिए पैसे नहीं है।

इस पर उन्होंने परिवार को सांत्वना देकर कहा इस लड़ाई में अब वो अकेले नहीं है पूरा देश उनके साथ खड़ा है। कोशिश करके बेहतर इलाज के लिए सभी इंतजाम दिल्ली में करवाऊंगी। उसकी सुरक्षा और ट्रीटमेंट सुनिश्चित करवाऊंगी ताकि अब उसके साथ और कोई साजिश ना होने पाए।

ये भी पढ़ें…जानें उन्नाव रेप केस में अब तक क्या हुआ?