दस साल के बच्‍चे ने बाग से उठाया एक आम, दबंगों ने गला दबाकर मार डाला

Published by Admin Published: April 25, 2016 | 4:56 pm
Modified: August 10, 2016 | 2:28 am

लखनऊ: क्या एक आम की कीमत किसी मासूम की जान से ज्यादा कीमती हो सकती है ? अपनी तहजीब के लिए मशहूर लखनऊ की एक घटना तो यही कहती है। यहां खेल-खेल में एक बाग से आम उठाने के बदले दबंगों ने एक मासूम के लिए सजा-ए-मौत का ऐलान कर दिया। आम मासूम की मुट्ठी में दबा रहा और दरिंदों ने अपने खूनी पंजों से उसका गला घोंट दिया।

क्‍या है मामला
-यूपी की राजधानी लखनऊ के करीब के गांव सठवारा की यह घटना है।
-रविवार सुबह गांव के राम उजागर द्विवेदी का 10 साल का बेटा सत्यम खेलते-खेलते गांव किनारे आम के बाग में पहुंच गया
-उसने जमीन पर पड़ा आम उठा लिया। यह बात दबंग धीरज और आशु को इतनी नागवार गुजरी कि उन्होंने सत्यम को मार डाला।
-उन्‍होंने पहले मासूम सत्यम को बुरी तरह पीटा और फिर उसी की शर्ट से गला दबाकर हत्या कर दी।
-यही नहीं, बेखौफ हत्यारे सत्यम के शव को बाग से बाहर उठा लाए और उसके घर के पास फेंक कर फरार हो गए।

बेटे की मौत सुन रो पड़ी मां
-जमीन पर गिरे एक सूखे आम के बदले बेटे की मौत की खबर सुनकर मां-बाप रो पड़े।
-पलक झपकते ही गांव में कोहराम मच गया।
-बेटे की लाश पर बिलखती मां बस एक ही रट लगाए है- कि कास बेटे ने आम के लिए कहा होता, तो वह आमों का ढेर लगा देती।
-अपना सब कुछ बेचकर उसे आम का पूरा बाग दे दिया होता।

पुलिस ने दो को कस्‍टडी में लिया
-घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
-परिजनों की शिकायत पर गोसाईंगंज थाने में हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।
-पुलिस ने दो लोगों को कस्‍टडी में ले लिया है जिनसे पूछताछ की जा रही है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App