उत्तर प्रदेश विधानसभा: मॉनसून सत्र आज, इन ज्वलंत मुद्दों पर जवाबदेही की कोशिश

इस सर्वदलीय बैठक में नेता सदन योगी आदित्यनाथ, नेता विपक्ष राम गोविंद चौधरी, संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना, बीएसपी के नेता विधान मंडल दल लालजी वर्मा, कांग्रेस की ओर से मसूद अख्तर, सुभासपा नेता ओमप्रकाश राजभर, अपना दल एस के नेता नीत रतन पटेल सहित विधानसभा सचिवालय के अधिकारी मौजूद थे।

उत्तर प्रदेश विधानसभा का मॉनसून सत्र, इन ज्वलंत मुद्दों पर जवाबदेही की कोशिश

उत्तर प्रदेश विधानसभा का मॉनसून सत्र, इन ज्वलंत मुद्दों पर जवाबदेही की कोशिश

लखनऊ : उत्तर प्रदेश विधानसभा का मॉनसून सत्र गुरुवार से शुरू हो रहा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि यह सत्र के हंगामेदार होने के आसार हैं। बता दें कि सत्र की शुरुआत दिवंगत विधायक जगन प्रसाद गर्ग को श्रद्धाजंलि अर्पित करके की जाएगी। इसके बाद शुक्रवार तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित हो जाएगी। इस बीच बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी।

यह भी पढ़ें: भारत की बड़ी जीत, अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ने कुलभूषण की फांसी पर लगाई रोक

इस बैठक में विपक्षी दलों ने यूं तो सदन संचालन में पूरे सहयोग का भरोसा दिया, लेकिन सोनभद्र में नौ लोगों की हत्या, संभल में सिपाहियों की हत्या, बदहाल कानून-व्यवस्था, मॉब लिंचिंग की घटनाओं, बदहाल किसानों जैसे कई मुद्दों पर विपक्ष सरकार को घेरने के लिए एकजुट है। इस बैठक में विपक्ष ने कहा कि अगर सरकार सदन में विपक्ष की बात नहीं सुनती है, तो विपक्ष के सामने धरना-प्रदर्शन का ही रास्ता बचता है।

यह भी पढ़ें: सरेआम पुलिस वालों की बेरहमी से हत्या कर फरार हुए कैदी, मचा हडकंप

इस सर्वदलीय बैठक में नेता सदन योगी आदित्यनाथ, नेता विपक्ष राम गोविंद चौधरी, संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना, बीएसपी के नेता विधान मंडल दल लालजी वर्मा, कांग्रेस की ओर से मसूद अख्तर, सुभासपा नेता ओमप्रकाश राजभर, अपना दल एस के नेता नीत रतन पटेल सहित विधानसभा सचिवालय के अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ने विपक्ष से अनुरोध किया कि वह उत्तर प्रदेश विधानसभा के मॉनसून सत्र को सुचारू रूप से चलाने में सहयोग करें।

यह भी पढ़ें: सोनभद्र: जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में खूर्नी संघर्ष, 9 लोगों की हत्या, दर्जनों घायल