×

रेलवे ने 91 किलोमीटर लंबी रेलमार्ग का प्रारंभिक सर्वे किया पूरा, यहां बिछेगी की दूसरी रेल लाइन

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 15 Nov 2018 6:24 AM GMT

रेलवे ने 91 किलोमीटर लंबी रेलमार्ग का प्रारंभिक सर्वे किया पूरा, यहां बिछेगी की दूसरी रेल लाइन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

गोरखपुर: नरकटियागंज मार्ग भी बाराबंकी गोरखपुर छपरा मुख्य रेलमार्ग की तरह ही बनेगा इस बाईपास रेल मार्ग पर भी गाड़ियां फर्राटा भरेगी। गोरखपुर कैंट से बाल्मिक नगर तक 91 किलोमीटर रेलमार्ग का विद्युतीकरण हो जाने के बाद अब रेलवे प्रशासन ने दोहरीकरण की तैयारी युद्ध स्तर पर शुरू कर दी है प्रथम प्रारंभिक दो चरण का सर्वे पूरा हो चुका है।

यह भी पढ़ें: बिहार: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पूसा यूनिवर्सिटी और NIT के दीक्षांत समारोह में करेंगे शिरकत

रेलवे प्रशासन अंतिम फाइनल लोकेशन सर्वे को फाइनल करने की तैयारी में जुटा हुआ है। रेल मंत्रालय ने 2017-18 के बजट में गोरखपुर कैंट वाल्मिक नगर रेल मार्ग के दोहरीकरण को शामिल किया। इसके बाद सर्वे की प्रक्रिया शुरू हुई आरंभिक रिपोनायसेस इंजीनियरिंग एंड ट्रैफिक सर्वे (आरईटीएस) के बाद प्रीमीलीनरी इंजीनियरिंग ट्रैफिक सर्वे (पीईटीएस) भी पूरा कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें: ‘नेता जी’ के इस गौरवशाली कार्य की याद में केन्द्र सरकार ला रही 75 रुपये का ये खास सिक्का

फाइनल सर्वे के बाद रिपोर्ट रेलवे बोर्ड को भेज दी जाएगी बोर्ड की संस्तुति मिलते ही निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी दरअसल रेल मंत्रालय की दिशा निर्देश पर इस महत्वपूर्ण सिग्नल लाइन का विद्युतीकरण हो गया है। संरक्षा आयुक्त ने रेलवे ट्रैक का निरीक्षण भी कर लिया है। फिलहाल इस रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने की योजना चल रही है।

यह भी पढ़ें: आंवला नवमी 2018: इस देवता के आंसुओं से बना था आंवला, जानें व्रत की कथा व पूजा विधि

वाल्मिक नगर नरकटियागंज रेल मार्ग को विद्युतीकरण भी अंतिम चरण में है। दिसंबर में इस सिंगल लाइन पर भी इलेक्ट्रिक इंजन ओं से गाड़िया फर्राटा भरती नजर आएंगी। वही एनईआर के मुख्य सूचना जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव ने बताया कि दोहरीकरण आमान परिवर्तन और विद्युतीकरण के कार्य तेजी के साथ चल रहे हैं। गोरखपुर कैंट वाल्मिक नगर रेल मार्ग के दोहरीकरण के लिए सर्वे की प्रक्रिया अंतिम चरण में है विद्युतीकरण पूरा हो चुका है।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story