×

सपा की बल्ले-बल्ले, माया को झटका: इस पूर्व सांसद ने लिया बड़ा फैसला

बीते लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ी बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमों मायावती को एक बड़ा झटका लगा है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 20 Jan 2020 8:58 AM GMT

सपा की बल्ले-बल्ले, माया को झटका: इस पूर्व सांसद ने लिया बड़ा फैसला
X
सपा की बल्ले-बल्ले, माया को झटका: इस पूर्व सांसद ने लिया बड़ा फैसला
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: बीते लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ी बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमों मायावती को एक बड़ा झटका लगा है। बस्ती मंडल के ताकतवर बसपा नेता व पूर्व सांसद व विधायक रामप्रसाद चैधरी अपने कई समर्थकों के साथ सोमवार को सपा में शामिल हो गए।

सपा में शामिल हुए ये नेता

राम प्रसाद चैधरी के साथ बस्ती से बसपा के जो नेता सपा में शामिल हुए हैं उनमें- पूर्व सांसद बस्ती अरविंद कुमार चैधरी, पूर्व विधायक दूधराम, पूर्व विधायक राजेंद्र चैधरी तथा पूर्व विधायक जितेन्द्र कुमार चौधरी नन्दू सहित उनके कई समर्थक सपा में शामिल हुए।

यह भी पढ़ें: श्रीलंका को पांच करोड़ डॉलर देगा भारत, जानिए क्यों बदला पड़ोसी प्रति देश का रवैया

ग्रहण की सपा की सदस्यता

रामप्रसाद चैधरी के अलावा जो मुख्य नेता सपा में शामिल हुए उनमें मऊ के पूर्व विधायक उमेश पांडे, मुजफ्फरनगर के पूर्व विधायक अनिल कुमार, कानपुर से विधानसभा प्रत्याशी रहे राम प्रसाद पासी तथा शाहजहांपुर के पुवायां विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी रहे सुदर्शन पासी समेत उनके कई समर्थकों ने सपा की सदस्यता ग्रहण की।

कुछ गुमराह हो गया था, लेकिन अब रास्ते पर आ गया हूं- रामप्रसाद चैधरी

इस मौके पर रामप्रसाद चैधरी ने कहा कि वर्ष 1982-83 में मुलायम सिंह यादव के साथ जुड़े थे। वर्ष 1989 में मुलायम सिंह ने उन्हे संतकबीर नगर से लोकसभा का चुनाव लड़ाया और जिता कर संसद पहुंचाया। इसके बाद वर्ष 1993 में नेताजी ने ही उन्हें पहली बार विधानसभा पहुंचाया। उन्होंने कहा कि इसके बाद वह कुछ गुमराह हो गए थे लेकिन अब फिर सही राह पर आ गया हूं और यह भरोसा दिलाता हूं कि अब सपा को ही आगे बढ़ाऊंगा।

यह भी पढ़ें: राहुल ने कर दी पंत की छुट्टी! कोहली के बयान के बाद ऋषभ के भविष्य पर उठे सवाल

गौरतलब है कि राम प्रसाद चैधरी के सपा में शामिल होने से मायावती को पूर्वांचल में बड़ा झटका लगा है तो इससे पहले हिंदू युवा वाहिनी के पूर्व अध्यक्ष सुनील सिंह समाजवादी पार्टी में शामिल हुए थे।

शनिवार को समाजवादी पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की उपस्थिति में सदस्यता ग्रहण कार्यक्रम सम्पन्न हुआ था। इसी कार्यक्रम में हिंदू युवा वाहिनी के पूर्व अध्यक्ष सुनील सिंह ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की थी।

यह भी पढ़ें: कमिश्नरी सिस्टम से पत्नी का बढ़ा कद! IPS पत्नी होंगी, IPS पति की ‘बॉस’

Shreya

Shreya

Next Story