×

आस्था के नाम खिलवाड़: मासूमों को क्रेन पर बैठाया, 11000 वोल्‍ट की लाइन पर ले गए, टला हादसा

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 2 Aug 2018 12:46 PM GMT

आस्था के नाम खिलवाड़: मासूमों को क्रेन पर बैठाया, 11000 वोल्‍ट की लाइन पर ले गए, टला हादसा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: आस्था के नाम पर बच्चों की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा है। खास बात ये है कि जिला प्रशासन ये सब देखकर के भी अंजान बना रहा। यहां सांई पालकी की शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें एक भारी भरकम क्रेन में बच्चों को बैठाया गया और 11 हजार वोल्ट की बिजली लाईन से भी ऊपर तक उन बच्चों को उठाया गया। लेकिन इन्हें रोकने वाला कोई नहीं था। अगर क्रेन खराब हो जाती या फिर ऊपर से गुजर रही हाईटेंशन लाईन से क्रेन छू जाती तो एक बङा हादसा हो सकता था। जिसमें बच्चो के साथ-साथ शोभायात्रा मे चल रहे दूसरे लोगों की भी जान जा सकती थी। जबकि पुलिस बल और प्रशासनिक अमला शोभायात्रा के साथ साथ चल रहा था। लेकिन वह इससे बेखबर था। लेकिन अब जिला प्रशासन कार्यवाही की बात कर रहा है।

शोभायात्रा के नाम पर लापरवाही

दरअसल चौक कोतवाली क्षेत्र मे सांई पालकी की शोभायात्रा निकाली जा रही थी। जिसमे सांई बाबा के सैंकड़ों भक्त शोभायात्रा मे शामिल हुए थे। शोभायात्रा मे झांकियां भी निकाली जा रही थी। लेकिन झांकियां निकालने का तरीका बेहद खतरनाक था। शोभायात्रा मे एक क्रेन का इंतजाम किया गया। उस क्रेन के कुंडे मे बच्चो को बैठाया गया और उन्हे बिजली के तारो से उपर करके ले जाया जा रहा था। क्रेन के कुंडे मे बैठे बच्चो को कभी जमीन तक लाया जाता तो कभी ड्राईवर उन्हे हाईटेंशन लाईन से उपर ले जाता। लेकिन वहां पर चल रहे शोभायात्रा के आयोजक ने इसे नही रोका। खास बात ये थी कि आस्था के नाम पर बच्चो की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा था। जबकि पुलिस और प्रशासन के अधिकारी शोभायात्रा के साथ साथ चल रहे थे।

इतना ही नही बताया जा रहा है कि शोभायात्रा मे क्रेन को लाने की परमीशन भी नही दी गई थी। हालांकि जब इस शोभायात्रा मे बच्चो की जिंदगी से खिलवाड़ का वीडियो और फोटो वायरल हुए और जब मामला मीडिया मे आया तब कहीं जिला प्रशासन ने जांच कर कार्यवाही की बात की है। वहीं शोभायात्रा के आयोजक इस मामले पर चुप्पी साधे हुए है।

सिटी मजिस्ट्रेट अतुल कुमार का कहना है मेरे संज्ञान में मामला अभी आया है। वीडियो और कुछ फोटो प्राप्त हुए हैं। इस मामले मे जांच की जा रही है। जांच के बाद दोषी पाए जाने पर शोभायात्रा के आयोजकों पर कार्यवाही की जाएगी।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story