Top

वरिष्ठ पत्रकार डॉ. राम नरेश त्रिपाठी ब्रह्मतत्व में विलीन, सीएम ने जताया शोक

प्रयागराज के वरिष्ठतम पत्रकार डॉ. राम नरेश त्रिपाठी का आज शाम करीब साढ़े चार बजे प्रयागराज के नाजरेथ अस्पताल में निधन हो गया।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad MishraBy Raghvendra Prasad Mishra

Published on 3 May 2021 5:28 PM GMT

Dr. Ram Naresh Tripathi
X

सांकेतिक तस्वीर— (साभार— सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रयागराज। प्रयागराज के वरिष्ठतम पत्रकार डॉ. राम नरेश त्रिपाठी का आज शाम करीब साढ़े चार बजे प्रयागराज के नाजरेथ अस्पताल में निधन हो गया। वह लगभग 73 वर्ष के थे। कोविड से पीड़ित होने पर डाॅ. त्रिपाठी को प्रयागराज के स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया था। उसके बाद 27 अप्रैल को नाजरेथ अस्पताल में शिफ्ट किया गया, जहां सोमवार की शाम को उन्होंने अंतिम सांस ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने डॉ. त्रिपाठी के निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है।

डॉ. राम नरेश त्रिपाठी उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष, नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, पत्रकारों को अधिमान्यता प्रदान करने वाली उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गठित की जाने वाली कमेटी के सदस्य रह चुके थे। डॉ. त्रिपाठी अनेक पुस्तकों के लेखक और संपादक, अमेरिकी विश्वविद्यालय के विजिटिंग प्रोफेसर, अंतरराष्ट्रीय स्तर के संस्थान भारतीय विद्या भवन के क्षेत्रीय निदेशक, कौशाम्बी जिले में भरवारी स्थित भवंस मेहता महाविद्यालय के एडमिनिस्ट्रेटर भी रहे। डॉ. त्रिपाठी की पत्रकारिता यात्रा 1971 में प्रयागराज से देशदूत समाचार पत्र से शुरू हुई। फिर वह दैनिक जागरण प्रयागराज में चीफ रिपोर्टर रहे।

Also Read:कोरोना काल: आम मरीजों के इलाज के बजाय ऐसे लोकप्रिय हो रहे प्राइवेट डॉक्टर

1983 में उन्होंने नवभारत टाइम्स के प्रयागराज के ब्यूरोचीफ का पदभार संभाला और बीस साल तक वहीं सेवाएं देते रहे। ज्योतिष शास्त्र में पारंगत होने के नाते दैनिक जागरण ने उन्हें ज्योतिष के पेज के संपादन का दायित्व सौंपा तो लगभग 12 वर्षों तक उन्होंने यह दायित्व भी निभाया। उनके निधन से पत्रकारिता जगत की अपूरणीय क्षति हुई है। पत्रकारों ने अपना एक पुरोधा खो दिया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वरिष्ठ पत्रकार डॉ. राम नरेश त्रिपाठी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शान्ति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी वरिष्ठ पत्रकार डॉ. त्रिपाठी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। अपने शोक संदेश में उप मुख्यमंत्री श्री मौर्य ने कहा कि हमने प्रयाग का एक स्तंभ खो दिया है। उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

Also Read:होम आइसोलेशन में हुई मौतों के बाद योगी ने कहा ऐसे रोगियों से हर रोज करें संवाद


Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story