×

माइनर का पानी खेतों में घुसा, फसल में हर तरफ पानी ही पानी

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 8 Jun 2018 10:50 AM GMT

माइनर का पानी खेतों में घुसा, फसल में हर तरफ पानी ही पानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शामली: महीनों तक जिस फसल को तैयार किया उसे जब अपनी आंखों के सामने जलमग्‍न होते देखा तो कई किसानों का दर्द छलक उठा। सिंचाई विभाग की लापरवाही से टूटी माइनर ने किसानों की लाखों की फसल नष्‍ट कर दी। अब किसान मुआवजे की मांग पर अड़े हैं लेकिन उनकी सुध लेने वाले जिम्‍मेदार आंखें मूंद कर बैठे हुए हैं।

कई बार टूट चुकी है माइनर

जिले के कांधला कस्बे के सलेमपुर रोड निवासी मोहम्‍मद फारूख ने बताया कि यहां पर माइनर की पटरी टूट जाने से किसानों की लाखों की फसल जलमग्न हो गई है। पानी में फसल डूब जाने से किसानों को लाखों रूपये का नुकसान हो गया है। जिसकी शिकायत किसानों ने सिंचाई विभाग के उच्च अधिकारियों से कर मुआवजा दिलाए जाने की मांग की है। यहां माइनर की पटरी टूट जाने से किसानों के खेतों में कई फीट पानी भर गया जिससे किसानों की फसल नष्ट हो गई है। किसानों ने मामले की जानकारी सिंचाई विभाग के अधिकारियों को दी है। साथ ही बर्बाद हुई फसल का मुआवजा दिलाए जाने की मांग की है। किसानों का कहना है कि सिंचाई विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के कारण माइनर की पटरी कई बार टूट चुकी है और वह लोग सिंचाई विभाग के अधिकारियों को माइनर की पटरी दुरुस्त कराने की कई बार मांग कर चुके हैं। लेकिन आज तक शिकायत करने के बावजूद भी सिंचाई विभाग के किसी भी अधिकारी ने पटरी को दुरुस्त कराने की जहमत नही उठाई है। किसानों की फसल नष्ट होने से लाखों रुपये का नुकसान हो गया।

कांट्रेक्‍टर बोले- माइनर को कर दिया ठीक

माईनर को ठीक करने आये सिंचाई विभाग कॉन्टेक्टर प्रेमदत्त चौधरी ने बताया कि हम तो रजवाहे को ठीक करने के लिए आये हैं। जब रजवाहे में पानी आता है। तो कहीं ना कहीं से टूटने की शिकायत आती रहती है। हमारा काम तो अधिकारियों के कहने पर इसे ठीक करने का है। मुआवाजा या और कोई बात तो अधिकारी ही जानें।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story