UP में वैक्सीनेशन की बड़ी तैयारी, पहले दिन 31700 स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका

देश-व्यापी शुरूआत के साथ ही उत्तर प्रदेश में भी जानलेवा वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण के शुभारम्भ के दौरान उत्तर प्रदेश में 317 स्थानों पर कोविड टीकाकरण के पहल की शुरुआत होगी।

Published by Monika Published: January 15, 2021 | 10:43 pm
covid 19 vaccination

covid 19 vaccination (file pic )

लखनऊ: देश-व्यापी शुरूआत के साथ ही उत्तर प्रदेश में भी जानलेवा वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण के शुभारम्भ के दौरान उत्तर प्रदेश में 317 स्थानों पर कोविड टीकाकरण के पहल की शुरुआत होगी। प्रदेश में प्रथम चरण के लिए  20,000 खुराकें आ चुकी हैं। टीके सभी 75 जिलों में जरूरत के हिसाब से भेजे जा चुके हैं। टीकाकरण केन्द्र पर तीन कक्ष होंगे। टीकाकरण के बाद व्यक्ति को 30 मिनट निगरानी में रखा जाएगा। एडवर्स इवेंट फालिंग इम्युनाइजेशन की घटना होने पर  किट का प्रयोग किया जाएगा एवं व्यक्ति को निकटतम स्वास्थ्य   केन्द्र पर ले जाया जाएगा। टीकाकरण होने वाले प्रत्येक व्यक्ति की सूचना  पोर्टल पर उपलब्ध है। विभाग ने प्रत्येक टीकाकरण स्टाफ को  की ब्रैडिंग वाली फेस शील्ड उपलब्ध करायी है।

सुरक्षा नियमों का पालन

चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जयप्रताप सिंह ने बताया कि टीकाकरण के दौरान सभी सुरक्षा के नियमों का पालन किया जाएगा। सुरक्षा के सभी इंतजाम किए जा चुके हैं। सभी 1298 कोल्ड चेन पाॅइन्टस पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं एवं टीकाकरण सत्र की निगरानी भी सीसीटीवी द्वारा की जाएगी। टीकाकरण सम्बन्धी किसी भी समस्या के लिए राज्य हेल्पलाइन नम्बर- 104 और राष्ट्रीय हेल्पलाइन नम्बर- 1075 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें: किसानों से बातचीत की नाकामी पर अखिलेश का व्यंग्य, बताया बीजेपी का नया जुमला

75 जिलों में जरूरत के हिसाब से भेजे गए टिके

जय प्रताप सिंह ने जानकारी दी कि उत्तर प्रदेश में दोनो प्रकार के स्वदेशी टीकों का प्रयोग किया जाएगा। प्रदेश में प्रथम चरण के लिए  20,000 खुराकें आ चुकी हैं। टीके सभी 75 जिलों में जरूरत के हिसाब से भेजे जा चुके हैं। कोल्ड चेन के लिए उचित जगह एवं उपकरण की व्यवस्था भी की जा चुकी है। कोल्ड चेन को सुनिश्चित करने के लिए 23 जिलों में निर्माण एवं 52 जिलों में मरम्मत का कार्य भी पूरा  हो चुका है, जिससे अतिरिक्त 2,24,242  की क्षमता को बढ़ाया जा सके।

उन्होंने कहा योजना के अन्तर्गत, सभी टीकाकरण केन्द्रों पर 05 सदस्यों की टीम होगी जिनमे सुरक्षा कर्मी, सत्यापन करता, टीका लगने वाला, एवं सपोर्ट स्टाॅफ शामिल हैं। सभी सदस्यों को अपने कार्य के लिए उचित प्रशिक्षण दिया जा चुका है।  कोविड टीकाकरण उचित वैज्ञानिक शोध के बाद लागू किया जा रहा है एवं पूरी तरह  सुरक्षित है। सरकार द्वारा इच्छुक व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाएगा। पहले चरण  में स्वास्थ्य कर्मी, द्वितीय में फ्रन्टलाइन कार्यकर्ता एवं तीसरे चरण में 60 वर्ष से अधिक व्यक्ति शामिल होंगे।

श्रीधर अग्निहोत्री

ये भी पढ़ें: गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्य की समीक्षा, अवनीश अवस्थी ने दिए ये निर्देश

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App