×

गोरखपुर में शहीद के घर योगी का ऐसे हुआ स्वागत, घर में लगवाया गया कूलर-सोफा

 सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार ने पांचवीं बार गोरखपुर के दौरे पर गए। सीएम सबसे पहले कश्मीर में शहीद हुए सीआरपीएफ के सब इंस्पेक्टर साहब शुक्ला के

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 8 July 2017 11:27 AM GMT

गोरखपुर में शहीद के घर योगी का ऐसे हुआ स्वागत, घर में लगवाया गया कूलर-सोफा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

गोरखपुर: सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार ने पांचवीं बार गोरखपुर के दौरे पर गए। सीएम सबसे पहले कश्मीर में शहीद हुए सीआरपीएफ के सब इंस्पेक्टर साहब शुक्ला के घर गांव मझगांवा पहुंचे। सीएम ने यहां शहीद के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें 6 लाख का चेक दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि शहीद के परिजनों की हर संभव मदद की जाएगी।

ये भी पढ़ें ... बड़ी सफलता: मुंबई सीरियल ब्लास्ट का आरोपी यूपी के बिजनौर से अरेस्ट

वहीं, शहीद की पत्नी ने बताया कि उन्हें और उनके परिवार को सीएम से मिलकर बहुत अच्छा लगा। सीएम उनके घर पर आए और उन्होंने 6 लाख का चेक दिया। साथ ही उनके परिवार में एक को सरकारी नौकरी देने का वादा भी किया है।

क्या किए गए इंतजाम ?

सीएम योगी के दौरे के लिए अधिकारियों ने विशेष इंतजाम किए थे। शहीद के घर पर AC और सोफा लगाया गया, जिसे सीएम के जाते ही हटा लिया गया। कुशीनगर के दौरे पर सीएम से मिलने वालों को साबुन-शैम्पू भी दिया गया था। इस घटना के बाद सीएम ने कहा था कि ऐसे इंतजाम उनके लिए ना किए जाएं। बावजूद इसके अधिकारियों ने उनकी बातों पर अमल नहीं किया है।

देवरिया में भी किया गया था ऐसा इंतजाम

देवरिया में भी शहीद प्रेम सागर के घर ऐसी वीवीआईपी व्यवस्था दिखी थी। सीएम के आने की सूचना मिलते ही एक दिन पहले अधिकारियों ने शहीद के घर में सारे इंतजाम कर दिए और उनके जाते ही आधे घंटे के अंदर सामान ले भी गए।

आगे की स्लाइड में पढ़ें मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्‍वविद्याल पहुंचे सीएम ...

गरीब परिवारों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने आज मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्‍वविद्याल के बहुउद्देश्‍शीय भवन में 450 शहरी गरीब परिवारों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन प्रदान किया। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश ऊर्जा विभाग के 14.34 करोड़ की लागत से गोरखपुर शहर के अंतर्गत 33/11 केवी विद्युत उपकेंद्रों को अतिरिक्त विद्युत स्रोत से आपूर्ति सुदृढ करने के कार्य का शिलान्यास एवं 10.40 करोड़ की लागत से निर्मित 4 नग 33/11 केवी उपकेंद्रों का लोकार्पण/शिलान्यास किया।

क्या बोले सीएम?

- इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि दुनिया आगे बढ़ती है और एक नई संभावना को जन्म देती है। लेकिन, उत्तर प्रदेश में बिजली विभाग पीछे जा रहा था।

- गांव में बिजली जाती थी तो महीनों ट्रांसफार्मर नहीं बदला जाता था। इसलिए हमारी सरकार आयी तो वीआईपी संस्कृति को खत्म किया।

बनारस से लखनऊ जाते समय श्रीकात शर्मा को उनकी उपलब्धि दिखाई। हर घर मे बिजली जल रही थी। 3 महीने पहले ऐसा नहीं था। केरोसिन भी नहीं मिलता था। उन्‍होंने कहा कि बाहर रहने वाले लोग गर्मी की छुट्टियों में गांव नहीं आते थे। अब आने लगे हैं।

निःशुल्क विद्युत कनेक्शन गाँव में विधायक पूरा कराएं. गाँव में 48 और शहर में 24 घंटे में ट्रांसफार्मर बदलेगा। ऐसी योजना बना दी है।शहरी क्षेत्र में जो भी गरीब परिवार विद्युत कनेक्शन लेना चाहता है उन्हें उपलब्ध कराया जाएगा।

- 23 जुलाई को विधायक कैम्प लगाकर यह सुनिश्चित करें। हम सस्ती बिजली खरीदेंगे।

- पूर्व की सरकार महंगी 8 रुपये के दर से बिजली खरीद रहे थे. विपक्ष पूछ रहा था कि बिजली कहां से आ रही है।

- हमने कहा कि तुम लोग प्रदेश को लूट रहे थे।नोच रहे थे।

हरी क्षेत्र में जहां बांस-बल्ली से विद्युत पहुंच रही है। वहां विद्युतीकरण होगा. कैम्प लगाकर गरीबों को निःशुल्क बिजली कनेक्शन देंगे। अधिकारी यह सुनिश्चित करें, नहीं तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। 23 जुलाई को सभी विधायक इसमें जुट जाएं. सभी गरीबों को विद्युत कनेक्शन मिल जाए। एक नोडल अधिकारी भी नियुक्त किया जाए।

जिससे किसी को भटकना न पड़े. इस अवसर पर श्रीकांत शर्मा, ऊर्जा मंत्री उत्तर प्रदेश और स्वतंत्रदेव सिंह राज्यमंत्री ऊर्जा, परिवहन (स्व.प्र.), प्रोटोकॉल (स्व.प्र.) सहित गोरखपुर मं‍डल के सभी विधानसभा क्षेत्रों के विधायक भी उपस्थित रहे। इसके पहले उन्होंने परिसर में पौधरोपण किया और मालवीय शोध समागम का उद्घाटन किया।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story