×

यूपी में स्कूली बच्चों के अच्छे दिन, मिलेगा जूता-मोजा और स्वेटर

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 3 Oct 2017 6:27 PM GMT

यूपी में स्कूली बच्चों के अच्छे दिन, मिलेगा जूता-मोजा और स्वेटर
X
यूपी कैबिनेट की मीटिंग जारी, कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मिल सकती है मंजूरी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : सूबे की योगी सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि कैबिनेट मीटिंग में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। इनमें मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत एक कमेटी चिन्हित करेगी कि किन लोगों को लिया जाए। विधवा और तलाकशुदा को भी इस योजना का फायदा मिलेगा। इस योजना में कम से कम 10 जोड़े शामिल होंगे। उन्हें 35 हजार का फायदा मिलेगा। कपड़े, बिछिया, पायल, बर्तन, मोबाइल और कुछ धनराशि भी दी जाएगी। जबकि सीधे बैंक खाते में भी 20 हजार रुपये दिए जाएंगे।

मंत्री ने बताया एनजीओ भी इसमें अपना सहयोग दे सकते हैं। समाज कल्याण विभाग इसकी तैयारी शुरू करेगा।

और क्या निर्णय हुए मीटिंग में

मिट्टी का तेल नियंत्रण अधिनियम के नियमावली में संशोधन प्रस्ताव को मंजूरीl 1994 में नियमावली बनाई थी पर इसे कानूनी रूप नही दिया गया था।

कक्षा एक से आठ के छात्रों को निःशुल्क एक जोड़ी जूता, दो जोड़ी मोजा और एक स्वेटर दिया जाएगा।

इसपर 300 करोड़ होगा खर्च इस योजना में 1,48,49,145 बच्चे होंगे लाभांवित।

135.75 रुपये एक जोड़ी जूते और 21.50 रुपये एक जोड़ी मोजे के लिए तय हुए हैं।

सब्सिडी की योजनाओं को आधार कार्ड से जोड़ा जाएगा।

गुजरात और महाराष्ट्र मॉडल को अपनाया गया है।

खाद्यान वितरण प्रणाली को आधार से लिंक करेंगे।



Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story