Top

मिशन 2017: पूरे UP में घूम-घूमकर उपलब्धियां गिनाएंगे CM अखिलेश

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 25 Jun 2016 6:10 PM GMT

मिशन 2017: पूरे UP में घूम-घूमकर उपलब्धियां गिनाएंगे CM अखिलेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः यूपी में विधानसभा चुनाव में करीब 9 महीने बचे हैं। ऐसे में समाजवादी पार्टी ने तय किया है कि सीएम अखिलेश यादव खुद पूरे सूबे में घूम-घूमकर लोगों को अपनी सरकार की उपलब्धियों की जानकारी देंगे। सभी 75 जिलों में सीएम की समाजवादी विकास यात्रा निकलेगी। इस दौरान जनसभाओं में अखिलेश अपनी सरकार का पांच साल का रिपोर्ट कार्ड सौंपेंगे।

2012 में भी निकाली थी यात्रा

-अखिलेश यादव ने 2012 के विधानसभा चुनाव से पहले भी यात्रा निकाली थी।

-उस यात्रा को क्रांति रथ यात्रा का नाम दिया गया था।

-सूबे के करीब 5000 किलोमीटर इलाके में ये यात्रा हुई थी।

-उस दौरान भी सूबे के ज्यादातर इलाकों में अखिलेश अपने क्रांति रथ में बैठकर गए थे।

-अखिलेश ने क्रांति रथ यात्रा के दौरान तत्कालीन मायावती सरकार पर जमकर हमला बोला था।

akhilesh-yatra-1 2011 में साइकिल से प्रचार करते अखिलेश यादव की फाइल फोटो

साइकिल भी चला चुके हैं अखिलेश

-अखिलेश यादव ने साल 2011 में यूपी के कई जिलों में साइकिल चलाकर प्रचार की शुरुआत की थी।

-सरकार बनने के बाद भी कई मौकों पर वह साइकिल पर सवार हो चुके हैं।

-साल 2015 और 2016 में सरकार की उपलब्धियां बताने के लिए साइकिल यात्रा की थी।

मुलायम भी करते थे रथयात्रा

-1987 से 1988 तक अखिलेश के पिता और तत्कालीन जनता दल नेता मुलायम सिंह यादव क्रांति रथ पर चले थे।

-मुलायम क्रांति रथ लेकर यूपी के तमाम इलाकों में उस दौरान गए थे।

-मुलायम को ये क्रांति रथ हरियाणा के सीएम रहे चौधरी देवीलाल ने दी थी।

-मुलायम की जहां सभा होती थी, वहां करीब 200 मोटरसाइकिलों वाली ग्रीन ब्रिगेड पहले ही पहुंच जाती थी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story