Top

CM अखिलेश बोले- BJP वाले मायावती से बंधवा लें राखी, मिल जाएगी माफी

By

Published on 23 July 2016 10:23 AM GMT

CM अखिलेश बोले- BJP वाले मायावती से बंधवा लें राखी, मिल जाएगी माफी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बीजेपी नेता दयाशंकर सिंह के बसपा सुप्रीमो मायावती के ऊपर किये गए आपत्तिजनक टिप्पणी और उससे उपजे विवाद के बाद हो रही सियासत पर सीएम अखिलेश ने चुटकी लेते हुए कहा, 'भाजपा के लोगों को मायावती से माफी मांगकर राखी बंधवा लेनी चाहिए। वे पहले भी ऐसा कर चुके हैं।'

बीजेपी नेता ने जो कहा, वो आधा गलत था

ये बातें सीएम अखिलेश यादव ने अपने सरकारी आवास पर शिक्षकों और वैज्ञानिकों के सम्मान समारोह में आयोजित समारोह में कही। उन्होंने आगे कहा, 'किसी की जुबान फिसल गई तो इतना बड़ा प्रदर्शन किया। मंच लगाकर अपशब्द बोले गए। बीजेपी और बसपा के नेताओं में गंदी भाषा बोलने की होड़ लगी है। बीजेपी नेता ने जो बोला वो गलत था लेकिन सिर्फ आधा हिस्सा ही। आधा हिस्सा सही था। हमें भी पता है कि बसपा में पैसे से टिकट मिलते हैं। बीएसपी से जो भी निकल रहा है, वह यही आरोप लगा रहा है।'

ये भी पढ़ें ...राशिद अलवी का बयान, कहा-मोदी के इशारे पर BJP नेता उगलते हैं जहर

एम्स शिलान्यास में नहीं बुलाया

इस दौरान सीएम ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्हें 'चालू' बताया। अपने संबोधन में सीएम ने केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, 'प्रदेश सरकार ने गोरखपुर में एम्स के लिए नि:शुल्क जमीन दी लेकिन उसके शिलान्यास मौके पर हमें नहीं बुलाया। शिलापट्ट पर मेरा नाम तक नहीं लिखवाया।'

कांग्रेस ने भी नहीं बुलाया था

सीएम अखिलेश ने अपनी पीड़ा जाहिर करते हुए कहा, इससे पहले कांग्रेस ने भी ऐसा ही किया था। रायबरेली में एम्स के शिलान्यास में नहीं बुलाया था। दोनों बार केंद्र सरकार ने अपनी ही वाहवाही लूटी।

ये भी पढ़ें ...आरके चौधरी का आरोप- कांशीराम कहते थे कि मायावती को पैसों की हवस है

पीएम पर लगाया झूठ बोलने का आरोप

सीएम ने पीएम मोदी पर गन्ना मूल्य भुगतान पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, 'हमारे हिसाब से अभी करीब 3,000 करोड़ रुपए गन्ना मूल्य का बकाया है, जबकि पीएम ने इसे बस 175 करोड़ रुपए का बताया।

Next Story