नई शिक्षा नीति पर HRD मिनिस्टर ने ली बैठक, कहा- रोहित बेमुला मामले से लेंगे सीख

hrd-minister

वाराणसी: केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर गुरुवार को वाराणसी आए थे। प्रकाश जावड़ेकर ने बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) में देशभर से आए 35 विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ बैठक की। बैठक में नई शिक्षा नीति सहित कई महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर निर्णय लिए गए। इस दौरान प्रकाश जावड़ेकर ने रोहित बेमुला मुद्दे से भी सीख लेने की बात कही।

बैठक में देश में समान शिक्षा और बेहतर शोध की बात पर भी चर्चा हुई। साथ ही रोहित बेमुला की तरह कोई छात्र फिर से सुसाइड न करे, इसके लिए भी इंतजाम किए जाने का मुद्दा उठा। बीएचयू के सेंट्रल ऑफिस में गुरुवार को 35 विश्वविद्यालयों के कुलपति एचआरडी मिनिस्टर के साथ नई शिक्षा नीति पर अपनी बातें रखीं।

इन मुद्दों पर रहा जोर:-
-इस वर्ष शिक्षा नीति पर निर्णय
-देश में सामान शिक्षा और बेहतर शोध
-कौशल विकास केंद्र
-शिक्षा को औद्योगिक क्षेत्र से जोड़ना
-शोध और शैक्षिक प्रक्रिया जनमानस के नजदीक लाना।

रोहित बेमुला मामले से लेंगे सीख
रोहित बेमुला के सुसाइड को ध्यान में रखते हुए मानव संसाधन मंत्री ने कहा, ‘हम ऐसे नियम बना रहे हैं ताकि विश्वविद्यालयों में की ऐसी स्तिथि फिर कभी न आए। इसके लिए हम छात्रों को इंडक्शन, काउंसलिंग और हर महीने छात्रों और शिक्षकों के बीच संवाद भी कराएंगे।’

वाराणसी-मिर्जापुर से शुरू होगा पायलट प्रोजेक्ट
केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री ने कहा, कि ‘केंद्र सरकार एक पायलट प्रोजेक्ट शुरू कर रही है। जिसके अंतर्गत पहले चरण में वाराणसी और मिर्जापुर के शिक्षकों को ‘स्किल डेवलपमेंट’ के तहत ट्रेनिंग दी जाएगी।’

यूजीसी के चैयरमेन प्रो वेदप्रकाश ने बताया, ‘छात्रों के शोध के लिए शिक्षकों की नियुक्ति और नए पाठ्यक्रम पर ख़ास जोर दिया जाएगा।’

आगे की स्लाइड्स में देखें खबर से जुड़ी अन्य तस्वीरें …

varanasi-5
varanasi-3
varanasi-4
varanasi-2
varanasi-1