Top

हिंदू महासभा का वजूद मानने से योगी का इनकार, बताया हिंदू विरोधी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 30 Jun 2016 9:39 PM GMT

हिंदू महासभा का वजूद मानने से योगी का इनकार, बताया हिंदू विरोधी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुरः बीजेपी के फायरब्रांड सांसद योगी आदित्यनाथ ने हिंदू महासभा का अस्तित्व होने से ही इनकार कर दिया है। योगी का कहना है कि ये लोग हिंदू संगठन के नाम पर बयानबाजी कर रहे हैं, लेकिन जब हिंदू महासभा नाम का संगठन ही नहीं है तो फिर ये लोग हिंदुओं का खैरख्वाह कैसे हो सकते हैं।

बता दें कि हिंदू महासभा का खुद को अध्यक्ष बताने वाले स्वामी चक्रपाणि महाराज कैराना में हिंदू पलायन की जांच करने के लिए सपा सरकार की ओर से भेजे गए थे। साथ ही संगठन ने आरएसएस पर इफ्तार पार्टी करने को लेकर सवाल खड़े किए थे। इसी से आदित्यनाथ नाराज दिख रहे हैं।

क्या है मामला?

-हिंदू महासभा ने बयान जारी कर आरएसएस पर आरोप लगाया था।

-संगठन की ओर से कहा गया था कि आरएसएस नवरात्रि पर कोई आयोजन नहीं करता।

-चक्रपाणि महाराज ने कैराना से हिंदू पलायन को सांप्रदायिक दुराव की वजह से मानने से इनकार कर दिया था।

-चक्रपाणि महाराज ने बीते साल डॉन दाऊद इब्राहिम की कार को खरीदकर उसे जलाया भी था।

आदित्यनाथ ने क्या कहा?

-आदित्यनाथ ने कहा कि दिवंगत हिंदू नेताओं का ये लोग अपमान कर रहे हैं।

-हिंदू महासभा की संपत्ति पर काबिज होकर लूट-खसोट कर रहे हैं।

-महासभा अध्यक्ष दिल्ली का दफ्तर किसी को भी किराए पर दे देते हैं।

-इन लोगों का हिंदुत्व से कोई लेना-देना नहीं है और ये हिंदू विरोधी तत्व हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story