हरिद्वार कुम्भः अपर मेलाधिकारी ने जूना अखाड़ा से शुरू किया, निर्माण का शुभारंभ

अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह के साथ पहली ईट रखी। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने बताया अन्य सभी अखाड़ों में भी कुम्भ मेला प्रशासन की देख-रेख में पूर्ण गुणवत्ता के साथ स्थायी निर्माण कार्य प्रारम्भ हो गए है। जिन्हे निर्धारित समय सीमा के अन्दर पूर्ण कर लिया जायेगा।

haridwar kumbh

हरिद्वार कुंभ तैयारियां शुरू (फोटो सोशल मीडिया)

हरिद्वार कुम्भ मेला 2021 के लिए आवंटित क्षेत्र में अखाड़ों ने निर्माण कार्य प्रारम्भ कर दिया है। अपर मेला अधिकारी के साथ अखाड़ा परिषद महामंत्री ने जूना अखाड़ा में निर्माण कार्य शुरू कराया। कुम्भ मेला 2021 के लिए इन दिनों प्रशासन स्तर पर और अखाडो़ं द्वारा तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। प्रदेश सरकार द्वारा सभी तेरह अखाड़ों को में भंडार, कोठार, समष्टि भण्डारों के लिए स्थायी शेड व अन्य निर्माण कार्यो आदि के लिए एक -एक करोड़ रूपये की धनराशि दी गई है। जिससे सभी अखाड़ों में निर्माण कार्य प्रारम्भ हो गए हैं।

बुधवार को श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा में भण्डार के गृह के निर्माण के लिए अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह ने भूमि पूजन कर नारियल फोड़कर निर्माण कार्य शुरू कराया। इस मौके पर जूना अखाड़े के अंतरराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत हरिगिरि महाराज, अंतरराष्ट्रीय सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज, सचिव श्रीमहंत महेशपुरी, थानापति महंत नीलकंठ गिरि, व्यापारी नेता केैलाश केशवानी ने विधिवत पूजा अर्चना की।

इसे भी पढ़ें हरिद्वार में कुंभ: 2021 में ही भव्य कुंभ मेला, देश-विदेश से लगेगा भक्तों का जमावड़ा

इसके बाद सभी ने अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह के साथ पहली ईट रखी। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने बताया अन्य सभी अखाड़ों में भी कुम्भ मेला प्रशासन की देख-रेख में पूर्ण गुणवत्ता के साथ स्थायी निर्माण कार्य प्रारम्भ हो गए है। जिन्हे निर्धारित समय सीमा के अन्दर पूर्ण कर लिया जायेगा।

haridwar kumbh

पहली किश्त हो गई जारी

अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह ने बताया अखाड़ो को स्थायी निर्माण कार्यो हेतु आवंटित एक करोड़ की धनराशि में से 40लाख की पहली किश्त जारी कर दी गई है। शेष धनराशि भी शीघ्र जारी कर दी जायेगी। उन्होने बताया अखाड़ो को शिविर लगाए जाने हेतु आवंटित किए जाने वाले भू-खण्डों का भी समतलीकरण विद्युत, पेयजल, शौचालय आदि की व्यवस्था की जा रही है।

इसे भी पढ़ें हरिद्वार कुंभ: प्रयागराज की तर्ज पर बनेंगे ‘टेंट सिटी’ पर्यटन विभाग की तैयारी

इसके अतिरिक्त सभी अखाड़ों,समाजसेवी संस्थाओं व अन्य संस्थाओं से आए भूखण्डों के आवेदन पत्रों के अनुसार भूमि आवंटन की सूची तैयार की जा रही है। यह सभी व्यवस्थाएं समय रहते पूर्ण कर भूमि आवंटन कर दिया जायेगा।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App