×

कोरोना से अमेरिका में हाहाकार, राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन को दी बड़ी धमकी

चीन से फैले करोना महामारी ने अमेरिका में तबाही मचा रखा है। अब इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को एक बार फिर धमकी दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी के मामले में चीन ने लापरवाही बरती है।

Dharmendra kumar
Updated on: 2 May 2020 3:56 AM GMT
कोरोना से अमेरिका में हाहाकार, राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन को दी बड़ी धमकी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: चीन से फैले करोना महामारी ने अमेरिका में तबाही मचा रखा है। अब इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को एक बार फिर धमकी दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी के मामले में चीन ने लापरवाही बरती है। ट्रंप ने कहा कि अब इस लापरवाही के बाद चीन के सामने टैरिफ (अतिरिक्त टैक्स) झेलने का ही एकमात्र रास्ता बचा है।

ट्रंप ने पूछे गए इस सवाल के जवाब में यह बात कही है जिसमें चीन पर दंडस्वरूप टैरिफ बढ़ाने की बात हो रही थी। ट्रंप ने कहा कि निश्चित तौर पर यह एक विकल्प है। उन्होंने आगे कहा कि हमलोग देख रहे हैं कि आगे क्या होने वाला है। चीन के नजरिए से बहुत कुछ हो रहा है जो कुछ हुआ है निश्चय ही उससे हमलोग खुश नहीं हैं। सभी 182 देशों के लिए यह बुरा दौर है।

यह भी पढ़ें...कोरोना संकट से चीन को भारी झटका, अब दवा निर्यात का बड़ा केंद्र बनेगा भारत

इससे पहले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने भी चीन पर कोरोना वायरस के मामले की जानकारी छिपाने का आरोप लगा चुके हैं। माइक पोंपियो का कहना है कि हालांकि चीन कह रहा है कि उसने सारी जानकारी दी है, लेकिन अब तक हमारे पास इस वायरस का सैंपल तक मौजूद नहीं है। उन्होंने कहा कि हमलोग अब तक यह समझने की कोशिश कर रहे हैं कि यह खतरा कितना बड़ा था।

यह भी पढ़ें...तानाशाह किम जोंग जिंदा: 20 दिन बाद आये नजर, देखा गया यहां…

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि चीन कहता है कि कोरोना वायरस कहां से फैला इस बात की जानकारी उन्हें नहीं है, लेकिन चीन में रहने वाला अगर कोई व्यक्ति इस संबंध में बात करना चाहता है तो हमें उनतक पहुंचने नहीं दिया जा रहा है। उन्हें इस बारे में कोई बात नहीं करने को कहा गया है। पहले भी उन्हें रोककर हमारी चर्चा को समाप्त किया जा चुका है।

पोंपियो ने कहा कि कोई भी विश्वसनीय पार्टनर अपने साझीदार देश के साथ ऐसा व्यवहार नहीं करता है, खासकर तब जब वो मुसीबत में हो। हमें इस मामले में जिम्मेदारी तय करनी होगी कि आखिरकार कोरोना चीन के वुहान से पूरे विश्व में कैसे फैला?

यह भी पढ़ें...पाकिस्तान की नापाक हरकतों का खुलासा, अल्पसंख्यकों पर ऐसे ढा रहा जुल्म

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को चीन का पब्लिक रिलेशन (PR) एजेंसी तक कह डाला है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने दावा किया कि उन्होंने वुहान के लैब में कोरोना वायरस से जुड़े सबूत देखे हैं। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि WHO को शर्म आनी चाहिए, क्योंकि वो चीन के लिए एक पब्लिक रिलेशन (PR) एजेंसी की तरह है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story