World

कोरोना वायरस का खतरा कम होने पर धीरे-धीरे हम एक समाज के तौर पर सक्रिय हो पाएंगे लेकिन अगर आपको लगता है कि सब कुछ कोरोना वायरस के आने के पहले जैसा हो जाएगा तो ऐसा नहीं होगा।

कोरोना वायरस से संक्रमित ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की स्थिति बिगड़ने के बाद उन्हें लंदन के सेंट थॉमस अस्पताल के आईसीयू में शिफ्ट किया गया है। यूके मीडिया के हवाले से ये जानकारी सामने आई है।

आजकल के माहौल में इंसानियत बहुत कम ही देखने को मिलती है। लेकिन ऐसा भी नहीं है कि समाज से इंसानियत बिल्कुल ही खत्म हो गई है। इंदौर में एक घटना हुई, जो इसका ही उदाहरण है। इंदौर में एक महिला की मृत्यु हो गई।

कोरोना वायरस से इस वक्त पूरी दुनिया जूझ रही है। जिसके चलते दुनियाभर के तमाम देशों में इस वक्त लॉकडाउन लागू किया गया है। इस दौरान लोगों से अपील की जा रही है कि वे अपने घरों में ही रहें।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने धमकी भरे लहजे का भी इस्तेमाल किया। वह भी सिर्फ एक दवा के लिए। इस दवा का नाम है हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन। आखिर क्या वजह है कि डोनाल्ड ट्रंप इस दवा के पीछे पड़े हैं?

कोरोना वायरस ने दुनिया दुनियाभर में कोहराम मचा रखा है। वहीं कुछ देश ऐसे भी हैं जो मास्क की कमी से जूझ रहे हैं। लेकिन इस बीच इजरायल नई तरह की तैयारी....

कोरोना को लेकर चीन ने जो रेस्पॉन्स दिया और WHO की ओर से उसे जिस तरह से मैनेज किया गया, इसको लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन पर दबाव बढ़ रहा है।

चीन से फैला कोरोना वायरस पूरी दुनिया में अपने पैर पसार चुका है। वहीं दुनिया के तमाम देश के वैज्ञानिका कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने में जुटे हुए हैं।

कोरोना वायरस का असर पूरी दुनिया में दिख रहा है। कोरोना से ग्रसित लगभग तमाम देश इस वक्त लॉकडाउन की स्थिति में है और हर कोई सख्ती बरत रहा है। इस बीच....

खबर है कि केंद्र सरकार की तरफ से 12 आवश्यक दवाओं और 12 एक्टिव फार्मास्यूटिकल इनग्रेडिएंट यानि API के निर्यात (Export) पर लगे बैन को हटा दिया है।