World

सुल्तानपुर लोदी के बाद  करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री  मोदी डेरा बाबा नानक पहुंचें। और प्रकाश सिंह बादल से मुलाकात की।उनके साथ गुरदासपुर के बीजेपी सांसद सनी देओल, केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी और शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल भी डेरा बाबा नायक पहुंचें।

करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह से पहले पीएम मोदी ने सुल्तानपुर लोधी पहुंचे। यहां बेर साहिब गुरुद्वारे में मत्था टेका।उसके बाद में वह डेरा बाबा नानक में एक सार्वजनिक समारोह में हिस्सा लेंगे। प्रधानमंत्री मोदी डेरा बाबा नानक गुरदासपुर

करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन से पहले 2200 सिख श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान के पंजाब प्रांत पहुंच चुका है। पाकिस्तान के गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के लिए शनिवार को जब भारत से श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना होगा, तो 72 सालों से की जा रही सिखों की अरदास पूरी हो जाएगी।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सामने इस समय कई चुनौतिया हैं। अब उन पर एक नए मामले में भारी जुर्माना लगाया गया है। तो वहीं उन पर महाभियोग जांच में सुनवाई की तलवार लटक रही है।

भारत का पड़ोसी देश नेपाल पर धीरे धीरे कब्जा किया जा रहा है, नेपाल पर अब चीन की नजर है। बता दें कि चीन की विस्तारवादी नीति की चपेट में नेपाल शामिल हो गया है।

ईरान के इस फैसले से सभी देश नाखुश हैं। ईरान के ताजा फैसले पर रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने चिंता जताते हुए पश्चिमी देशों को अपनी जिम्‍मेदारी निभाने की बात कही है वहीं ईरान पर लगे प्रतिबंधों को अवैध भी बताया है।

जानकारी के अनुसार हादसे उस वक्‍त हुआ जब करीब सात सौ मीटर नीचे काम चल रहा था। स्‍टेट माइ‍निंग अथॉरिटी के अनुसार सभी लोगों तक ऑक्‍सीजन पहुंचाया जा रहा है। सभी सुरक्षित हैं।

पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ इलाज के लिए विदेश जाएंगे। डॉक्‍टरों ने उनको इलाज के लिए विदेश जाने की सलाह दी है। माना जा सकता है कि डॉक्‍टरों ने पाकिस्तान के पूर्व पीएम को विदेश जाने की सलाह देकर जीवनदान देने का काम किया है।

पूरी दुनिया इन दिनों बढ़ते प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग के चलते परेशान है। इसका असर यह दिख रहा है कि दुनिया में कहीं इतनी भीषण बारिश हो रही है कि बाढ़ से तबाही मच जा रही है तो कई इलाके ऐसे भी हैं जहां पानी ही नहीं बरस रहा है और लोग सूखे की मार …

बर्लिन: जर्मनी में इलेक्ट्रिक वाहनों पर बड़ा निवेश किया जाएगा. राजधानी बर्लिन में हुए ऑटो शिखर सम्मेलन में दो महत्वपूर्ण फैसले लिए गए. ये फैसले ग्राहकों को इलेक्ट्रिक कार खरीदने के लिए सब्सिडी देने और पेट्रोल पंपों की तरह बड़े पैमाने पर बैटरी चार्ज करने वाले स्टेशन खोलने से जुड़े हैं. जर्मन बाजार में इलेक्ट्रिक …