World

दुनिया की सबसे बड़ी पंचायत संयुक्त राष्ट्र (यूएन) इस समय आर्थिक तंगी का मार झेल रहा है। नकदी की संकट होने की वजह से यूएन में अब उसके कामकाज पर असर हो रहा है। यूएन में नियमित तौर पर होने वाली कई बैठकों को स्थगित करना पड़ा है।

अमेरिका के कैलिफोर्निया के जंगलों में दो दिनों से भीषण आग लगी हुई है। अब इस आग ने विकराल रूप धारण कर लिया है जिसकी वजह से 1 लाख लोगों को अपना घर छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा है। आग इतनी भयानक है कि हर घंटे करीब 800 एकड़ क्षेत्र इसकी चपेट में आ रहा है।

बताते चलें कि प्लेन क्रैश होने की घटना लगाार बढ़ती जा रही है। हाल ही में तेलंगाना के विकाराबाद जिले में एक ट्रेनर विमान क्रैश हो गया है। सुल्तानपुर गांव के पास हुए इस हादसे में एक पायलट की मौत हो गई थी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भीषण करार दिए गए तूफान की वजह से पहले ही रग्बी विश्व कप के दो मैचों को रद्द करना पड़ा, और 1,600 से अधिक विमान उड़ान नहीं भर पाये।

भारत के प्राचीन शहर महाबलीपुरम(मामल्लापुरम) में शुक्रवार को दुनिया के दो ताकतवर नेताओं के बीच मुलाकात हुई। दोनों देशों के शीर्ष नेताओं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच हुई मुलाकात पर पूरी दुनिया की नजर है।

स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए सामान्यत: आपने बच्चों के लिए स्कूली वैन, रिक्शा और बसों को चलते देखा होगा। पर क्या कभी आपने ये सुना है कि स्कूल के लिए ट्रेन चलती है। और वो भी उस ट्रेन में सिर्फ एक बच्ची ही स्कूल जाती है और वापस घर आती है। लेकिन आपकों बता दें कि यह घटना सच है।

इथियोपिया के पीएम अबी अहमद अली को सन् 2019 में गौरवपूर्ण नोबेल पीस प्राइज दिया जाएगा। अबी अहमद अली को यह गौरवपूर्ण पुरस्कार पड़ोसी देश इरिट्रिया के साथ वर्षों से चले आ रहे सीमा विवाद को सुलझाने में प्रमुख भूमिका निभाने के लिए दिया जाएगा।

इंग्लैंड में रहने वाली एक महिला को समुद्र के किनारे टहलते हुए एक ऐसी चीज मिली जिसे देखकर वह हैरान रह गई और वह डर गई। उसे दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी संगठन अल कायदा के पूर्व मुखिया ओसामा बिन लादेन की तरह दिखने वाली एक सीप (कौड़ी) मिली।

नेपाल के सिंधुपालचौक जिले में एक दर्दनाक हादसा हो गया है। यह हादसा तब हुआ तब बस में यात्री सवार थे। घटना में 11 यात्रियों की मौत हो गई।

चीन के राष्ट्रपति शी चिन फिंग के ज्यों ही भारत आने की घोषणा हुई, कश्मीर के बारे में चीनी सरकार ने ऐसा बयान जारी कर दिया कि आज यदि भारत में इंदिराजी की सरकार होती तो चीनी राष्ट्रपति की यात्रा ही शायद स्थगित हो जाती।