World

रूस की राजधानी मॉस्को में पायलट की सूझबूझ से कल यानी गुरुवार को एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया। दरअसल, मॉस्को के एयरपोर्ट से विमान एयरबस 321 के उड़ान भरते ही विमान पक्षियों की झुंड से टकरा गया।

वीटो, लैटिन शब्द का अर्थ है "मैं निषेध करता हूं", किसी देश के अधिकारी को एकतरफा रूप से किसी कानून को रोक लेने का यह एक अधिकार है।संयुक्त राष्ट्र संघ सुरक्षा परिषद में, इसके स्थायी सदस्य (संयुक्त राष्ट्र अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, रूस और चीन) किसी प्रस्ताव को रोक सकते हैं या सीमित कर सकते हैं।

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इस बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक डर शता रहा है कि भारत सरकार पीओके में भी जा सकती है। पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इमरान खान पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओते) की विधानसभा में पहुंचे।

आप अपनी शादी से पहले अपने होने वाले पार्टनर की लॉयलिटी किस तरह चेक करेंगे? अक्सर लोगों के मन में कि मुझे मेरा पार्टनर प्यार करता है या नहीं?

जम्मू-कश्मीर के अनुच्छेद 370 को लेकर जहां एक तरफ विपक्ष हगांमा कर रहा है वही दूसरी तरफ पाकिस्तान की भी हालत खराब है। बीते दिन पहले अमेरिका ने पाक और भारत को अपने आपसी मामलो को सुलझाने के लिए बात करने को कहा था।

वैसे आर्टिकल 370 हटाये जाने के बाद से लगातार पाकिस्तान भारत को धमकियां दे रहा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भारत को धमकी दे चुके हैं कि पुलवामा जैसा हमला कभी भी हो सकता है।

वैसे सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं भारत के भी कई राज्यों में भारी बारिश की वजह से तबाही मची हुई है। बाढ़ और भारी बारिश की वजह से कई लोगों की मौत हो गयी है, जबकि कई लोग लापता हो गए हैं। देश के हर कोने में राहत कार्य जारी है।

विदेश मंत्री एस. जयशंकर के इस जवाब के बाद चीन भी अब शांत हो गया है। इसके साथ ही, अब पाकिस्तान अलग-थलग हो गया है। पाकिस्तान इसी आस में बैठा है कि कोई देश उसके पक्ष में बात करेगा लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं हो रहा है।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। प्रदेश के पुनर्गठन को लेकर पाकिस्तान पूरी दुनिया में घूम-घूम कर मदद की गुहार लगाई और इसे इंटरनेशनल फोरम पर उठाने की कोशिश की, लेकिन दुनिया के देशों ने उसके कोई भाव नहीं दिया।

इराक के कुर्द गांव में खतने के खिलाफ अब औरतों ने अपनी आवाज बुलंद कर ली है। कुर्द गांवों में बच्चियों और महिलाऔं के खतने के खिलाफ वादी एनजीओ का ओर से अभियान चलाया जा रहा है। इस एनजीओ से जुड़ी महिला रसूल ने इस अभियान को सफल बनाने की कसम खाई है।