50 करोड़ रुपये की कथित धोखाधड़ी मामले में रमन सिंह के दामाद के खिलाफ केस दर्ज

डीकेएस सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में मशीनों की खरीदारी और भर्ती में भारी अनियमितता की शिकायत के बाद तीन सदस्यीय कमेटी ने मामले की जांच की थी। इसमें डॉ गुप्ता के खिलाफ 50 करोड़ की अनियमितता की बात सामने आई है।

फ़ाइल फोटो

फ़ाइल फोटो

रायपुर: डीकेएस सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के पूर्व अधीक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के दामाद डॉ पुनीत गुप्ता के खिलाफ 50 करोड़ के फर्जीवाड़े पर एफआईआर दर्ज हुई है। यह एफआईआर डीके के अधीक्षक डॉ केके सहारे की शिकायत पर गोल बाजार थाने में हुई है।

पूर्व सीएम रमन सिंह के दामाद गुप्ता के खिलाफ कई धाराओं के तहत लोकसेवक होते हुए आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी, चारसौ बीसी, जालसाजी, फर्जी दस्तावेज से हेराफेरी करने के आरोप लगे हैं, अंतागढ़ टेप कांड में भी पंडरी थाने में डॉ. गुप्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज है।

डीकेएस सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में मशीनों की खरीदारी और भर्ती में भारी अनियमितता की शिकायत के बाद तीन सदस्यीय कमेटी ने मामले की जांच की थी। इसमें डॉ गुप्ता के खिलाफ 50 करोड़ की अनियमितता की बात सामने आई है।

ये भी पढ़ें…छत्तीसगढ़ सरकार इस मामले में कराएगी पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे की जांच

रमन सिंह पर भी हुई थी जांच की मांग
बता दें 2017 में छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी भी रमन सिंह के खिलाफ हेलीकॉप्टर घोटाले में जांच की मांग कर चुके हैं। उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके खिलाफ जांच शुरू करनी चाहिए। जोगी ने पनामा दस्तावेज मामलों में भी कथित तौर पर रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह के विदेशी बैंक खातों से जुड़े मामले की कार्रवाई की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि अगर जांच नहीं शुरू हुई तो वह उपवास करेंगे।

ये भी पढ़ें…छत्तीसगढ़ : रमन सिंह ने योगी का लिया आशीर्वाद, पैर छूकर भरा नामांकन